December 5, 2022

बिहार में शराबबंदी सिर्फ कागजों पर ही सिमटकर रह गई है, जहरीली शराब पीने से अभी तक 13 लोगों की मौत : राजू तिवारी

पटना। लोक जनशक्ति पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजू तिवारी जी ने छपरा जिले में जहरीली शराब से हुई अबतक 13 लोगों की मौत पर गहरी संवेदना व्यक्त की है। बताया जा रहा है कि बिहार के छपरा जिले में जहरीली शराब पीने से 13 लोगों की मौत हो चुकी, जबकि 17 लोगों के आंखों की रौशनी चली गई। जहरीली शराब पीने से दर्जनों लोग छपरा समेत विभिन्न अस्पतालों में इलाज को लेकर भर्ती है। तिवारी जी ने कहा कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू है, लेकिन जहरीली शराब पीने से लगातार अनगिनत लोगों की मौते होना सरकार पर सवाल खड़ी करती है। तिवारी ने कहा कि प्रदेश में शराबबंदी नाम का कोई चीज नहीं है प्रदेश में शराबबंदी सिर्फ कागजों पर ही सिमटकर रह गई है। जबकि जमीनी हकीकत यह है कि प्रदेशभर में शराब की होम डिलीवरी हो रही है और पूरे बिहार में खुलेआम शराब का बिक्री धडल्ले से जारी है। आगे तिवारी ने कहा कि इन मौतों की जिम्मेवारी प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी पर तय होनी चाहिए। क्योंकि वे प्रदेश के गृह मंत्री हैं। जिनपर कानून व्यवस्था का सम्पूर्ण दायित्व है। ऐसे में मुख्यमंत्री का अबतक इन मौतों पर कोई संवेदना व्यक्त न करना बेहद असंवेदनशीलता को दर्शाता है।

About Post Author

You may have missed