फुलवारी में उग्र लोगों का पुलिस पर हमला,डीएसपी संजय पांडे हुए घायल, दो पक्षों के बीच हुई थी हिंसा

फुलवारी शरीफ। बेउर थाना के हूलुकपुर गांव में भूमि विवाद को लेकर कल जमकर मारपीट हुई जिसके कारण 2 महिला समेत चार लोग घायल हो गए । जिसमें एक की चिंताजनक हालत में।फोर्ड में।इलाज चल रहा है। सुबह से महिला डेजी के परिजन बोल रहे है की पुलिस मरीज से मिलने नही दे रही है और मरीज की मौत हो चुकी है । पुलिस का कहना है कि मरीज अभी नही मरी है जान बचाने का प्रयास किया जा रहा है। इसी मामले को लेकर मरीज के परिजनों का गुस्सा अस्पताल के पास डीएसपी को देख फुट पड़ा । लोगों ने पथराव कर दिया । जिसमें डीएसपी संजय पांडेय के चेहरे पर पत्थर लग गयी। डीएसपी का भी इलाज फोर्ड हॉस्पिटल में हो रहा है । पथराव के बाद पुलिस ने लाठियां भांजकर सबको खदेड़ दिया । इस दौरान बाईपास पर खेमनीचक के पास अफरा तफरी मच गई ।

इस संबंध में पीड़ित परिवार के गुड्डू कुमार ने बताया कि बताया कि आलोक सिंह,दिलीप सिंह, सत्येंद्र सिंह, नीरज कुमार से भूमि विवाद चल रहा है। मगर न्यायालय ने डिग्री हम लोग को दे दी है ।तब भी दबंगों ने आकर मारपीट कर दिया और गाली गलौज करते हुए कहा कि कहा कि हम किसी तरह की डिग्री नहीं मानेंगे घायल में अखिलेश कुमार संजय कुमार और उ स की मां पार्वती देवी,डेजी कुमारी और निप्पू कुमार घायल है । डेज़ी कुमारी की हालत चिंताजनक बनी हुई थी और ईलाज के दौरान डेजी की मौत हो गयी । परिजनों का आरोप है कि बेउर थाना कल से इस मामले में कोई एक्शन नही ले रही थी। मामले की रिपोर्ट भी दर्ज नहीं कर रही थी। जब डेजी की मौत हो गयी तब बेवजह अपनी जान बचाने के लिए पुलिस मृत महिला को जिंदा बताकर इलाजरत बता रही है । इधर बेउर थानेदार प्रवेश भारती ने आरोपो को गलत बताते हूऐ कहा कि परिजनो में से कोई भी थाना में नहीं आया और न ही मामला लिखित दिया था । इसके बावजूद फोर्ड हॉस्पिटल में रामकृष्ण नगर पुलिस ने घायल का बयान लिया और बेउर भेजा। इसके बाद बेउर थाना में कल रात में ही मामला दर्ज कर लिया गया। दूसरे पक्ष के लोगों ने भी बेउर थाना से सम्पर्क किया था।
बता दें कि 70 फिट रोड हुलुक पर में जमीन के जिस प्लाट कर मारपीट हुई थी उसका मारपीट का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है।

You may have missed