February 22, 2024

हजरत अब्बास के शहादत की याद में निकला आलम का जुलूस

◊पटना सिटी (आनंद केसरी)। हजरत अब्बास अलमदार की शहादत की याद में बुधवार को शिया समाज के द्वारा अलम का जुलूस चमरू डंडिया इमामबाड़ा से निकला। इस दौरान अंजुमने पंजतनी, अंजुमने हुसैनिया, अंजुमने सज्जादिया, अंजुमने हैदरी आदि नौहखानी करते चल रहे थे। जब भी उनके साथ हुए अत्याचार और ऐसे जुल्म का जिक्र होता, जुलूस में शामिल लोग सीना पीटने लगते। अशोक राजपथ के विभिन्न रास्ते से जुलूस नवाब बहादुर रोड से होता मोगलपुरा दुरूखी हाथीखाना में आकर समाप्त हुआ। रोड के किनारे भी बड़ी संख्या में महिलाएं काले लिबास में नौहखानी के दौरान हो रहे सीनाजनी को देख सुबक (रोती) दिखीं। इसमें डॉ सिकंदर अली खां, रजा इमाम, शाह जौहर इमाम जॉनी, सरवर इमाम, तनवरूल हसन, डॉ अकबर अली, सफदर अली खां आदि शामिल थे। दरअसल मोहम्मद साहेब के नवासे हजरत अली के बेटे हजरत अब्बास अलमदार तीन दिनों से भूखे-प्यासे बच्चों के लिए दरिया नहरे खुराक से पानी लाने के दौरान शहीद कर दिए गए थे। उन्हीं की याद में अलम का जुलूस निकाला जाता है।

About Post Author

You may have missed