पटना में महिला खिलाड़ी के साथ दरोगा ने की छेड़खानी, ट्रायल के दौरान की बदसलूकी

पटना। बिहार में एक महिला खिलाड़ी के साथ छेड़खानी का मामला सामने आया है। कांड का आरोपी कोई और नहीं बल्कि एक पुलिस वाला है। वह सब इंस्पेक्टर स्तर का पुलिस कर्मी है। आरोपी पुलिस वाले के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दिया है। इस घटना से खिलाड़ियों के बीच नाराजगी और रोष देखा जा रहा  है। आरोपी के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की जा रही है। छेड़खानी की यह घटना पाटलिपुत्र खेल परिसर में वॉलीबॉल की महिला खिलाड़ी के साथ गई। उस समय वॉलीबॉल की महिला टीम के चयन का ट्रायल चल रहा था। इसी दौरान वॉलीबॉल कोच के तौर पर प्राधिकरण में प्रतिनियुक्त दारोगा संजय सिंह उर्फ सोनू ने एक महिला खिलाड़ी के साथ छेड़ाखानी की। पीड़त महिला खिलाड़ी ने इसकी जानकारी बिहार राज्य खेल प्राधिकरण के डीजी रवीन्द्रन शंकरण को दी। मामले के संज्ञान में आने के तुरंत बाद उनके स्तर से कार्रवाई शुरू कर दी गई। आरोपित दारोगा संयज सिंह के खिलाफ कानूनी कार्रवाई के लिए पटना पुलिस को पत्र भेजा। वहीं, दारोगा को उसके मूल पदस्थापन वाली जगह पर वापस भेज दिया। साथ ही उसे निलंबित करने और उसके विरुद्ध विभागीय कार्यवाही की अनुशंसा की गई है। माना जा रहा है कि आरोपित दारोगा को सस्पेंड किया जा सकता है। मामले को लेकर उससे पूछताछ भी की जा रही है।  वॉलीबॉल की महिला टीम के चयन के लिए दो दिनों का ट्रायल रखा गया था। बुधवार को पहला दिन था। शाम में कोच के रूप में प्रतिनियुक्त दारोगा संजय सिंह ने एक महिला खिलाड़ी के साथ छेड़खानी की। बताया जाता है कि महिला खिलाड़ी ने डीजी को मोबाइल पर घटना की जानकारी दी। डीजी ने शिकायत मिलने की पुष्टि की है। इस मामले में आगे की कार्रवाई चल रही है। माना जा रहा है कि जल्द ही पटना पुलिस महिला खिलाड़ी का बयान लेकर प्राथमिकी दर्ज करेगी। डीजी ने महिला खिलाड़ी की शिकायत मिलने की पुष्टि की है। उन्होंने आश्वत किया है कि पीड़त खिलाड़ी को न्याय मिलेगा। यह भी कहा कि है कि किसी को किसी से डरने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि सभी खिलाड़ियों को पर्याप्त सुरक्षा मुहैय्या कराया जाएगा। उन्हें अपने खेल पर ध्यान देना है। और चिंता करना सरकार का काम है।

About Post Author

You may have missed