January 31, 2023

शिक्षा मंत्री पर दर्ज हो जगह-जगह मुकदमे, ऐसा विरोध करें की वे किसी कॉलेज में घुस ना पाए : सुशील मोदी

पटना। बिहार में रामचरित मानस का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। बैठे-बिठाए भाजपा को मुद्दा मिला है। तो भाजपा किसी भी तरह इस मुद्दे को खत्म नहीं होने देना चाहती है। यही वजह है कि चारों तरफ से भाजपा के नेता प्रतिदिन रामचरित मानस को लेकर शिक्षा मंत्री और नीतीश सरकार पर हमला बोल रहे हैं। वही अब पूर्व उपमुख्यमंत्री और राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने कहा कि श्ररामचरित मानस पर अपमानजनक टिप्पणी करने वाले शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर पर जगह-जगह मुकदमे दर्ज होने चाहिए और उनका ऐसा विरोध किया जाना चाहिए कि वे किसी कॉलेज में न घुसने पाए। सुशील मोदी ने कहा कि जदयू के एक विधायक ने प्रोसेसर चंद्रशेखर का मानसिक संतुलन ठीक न होने की बात कह कर उन्हें हिंदू धर्म छोड़ने और इस्लाम या ईसाई पंथ में मतान्तरण कर लेने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि राजद से हाथ मिलाने के बाद मंत्रियों पर नीतीश कुमार का कोई नियंत्रण नहीं रह गया है। उन्होंने कहा कि जिन्हें शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी दी गई। वे छात्रों-शिक्षकों की समस्याएं हल करने के बजाय लोकप्रिय हिंदू धर्म ग्रंथ रामचरित मानस की निंदा कर समाज में कटुता पैदा करने पर उतर आए।
महागठबंधन में बनी अराजकता वाली स्थिति : सुशील मोदी
बीजेपी नेता ने कहा कि सत्तारूढ़ महागठबंधन में पूरी तरह से अराजक स्थिति है। मानस-निंदा प्रकरण में जदयू और राजद के बड़े नेता परस्पर-विरोधी बयान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजद में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी और विधायक विजय मंडल शिक्षा मंत्री के बयान को गलत मानते हैं। जबकि, प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद मानस-निंदक मंत्री के विचारों के साथ खड़े हैं। सुशील मोदी ने कहा कि जदयू अध्यक्ष ललन सिंह के मुताबिक उनकी पार्टी मजबूत हुई है। लेकिन संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा को संगठन में कमजोरी महसूस हो रही है। उन्होंने कहा कि सरकार और महागठबंधन में तीखे मतभेद खुलकर सामने आ रहे हैं।

About Post Author

You may have missed