November 26, 2022

नवादा : पुलिस ने बड़ी करवाई कर 11 साइबर अपराधियों को दबोचा, 28 मोबाइल समेत कई सामान बरामद

नवादा। पिछले कई वर्षों से नवादा जिला के वारिसलीगंज, शाहपुर, पकरीबरावां व काशीचक साइबर क्राइम के मामले में सुर्खियों में रह रहा है। यहां के अपराधियों का आतंक देश भर में फैल चुका है। इसको लेकर देश के कई राज्यों की पुलिस स्थानीय पुलिस के सहयोग से विभिन्न गांवों से आए दिन छापेमारी कर साइबर क्राइम में लिप्त ठग को गिरफ्तार कर चुकी है। ऐसा ही ताजा मामला बुधवार की रात की है। जब स्थानीय पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर दो अलग अलग गांव से ग्यारह ठग को गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। पुलिस ने ठग के पास से नगदी सहित अन्य सामान भी बरामद किया है। पुलिस को सूचना मिली थी कि थाना क्षेत्र के अपसढ़ गांव के बधार में ठगी का धंधा चल रहा है। खबर मिलते ही थानाध्यक्ष आशीष कुमार मिश्रा के नेतृत्व में उक्त गांव में छापेमारी की गई। जहां से पांच ठग को गिरफ्तार किया गया। इसके साथ ही 15 मोबाइल व अन्य सामान जब्त किया गया। गिरफ्तार ठग की पहचान नई दिल्ली सेक्टर-05 के विजय बाजार थाना क्षेत्र स्थित रोहिणी निवासी रविकांत के पुत्र रजत कुमार, जमुई जिले के सिकंदरा थाना स्थित अकौनी गांव निवासी सतेन्द्र सिंह के पुत्र संतोष कुमार, नालंदा जिले के कतरडीह निवासी क्रमशः अवधेश सिंह के पुत्र संजय कुमार व गेनौरी सिंह के पुत्र संजीव कुमार एवं स्थानीय थाना क्षेत्र के अपसढ़ गांव निवासी सुरेश राउत के पुत्र सुशील कुमार के रूप में की गई।

बताया जा रहा हैं की अपसढ़ गांव से गिरफ्तार कीये गए ठगों की निशानदेही पर थाना क्षेत्र के चकवाय पंचायत स्थित गोसपुर गांव में छापेमारी कर छह ठग को पुनः गिरफ्तार किया गया। वही गिरफ्तार युवकों के साथ ही एक लाख 22 हजार 200 रुपये नगदी,13 कीमती मोबाइल, एक लैपटॉप, तीन पासबुक, चेकबुक, एटीएम कार्ड, सीम कार्ड, साइबर क्राइम से जुड़े कागजात आदि मौके से जब्त किया गया। बताया गया कि गोसपुर गांव निवासी त्रिपुरारी कुमार ठग गिरोह का सरगना है। जिसके देखरेख में ठगी का बड़े पैमाने पर धंधा चलाया जा रहा था।

About Post Author

You may have missed