January 31, 2023

उपेंद्र कुशवाहा को मुख्यमंत्री का दो टूक, नीतीश बोले- अगर वह जाना चाहते हैं तो, जल्दी चले जाए

पटना। बिहार की राजनीति में इन दिनों काफी सियासी घमासान देखने को मिल रहा है। विपक्ष के साथ-साथ बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जदयू में भी उठापटक देखने को मिल रही है। बता दें कि इन दिनों जदयू के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा के पार्टी छोड़ने तथा उनके बीजेपी में शामिल होने की संभावनाओं के दौड़ने बिहार की राजनीति का तापमान बढ़ा दिया है। इस मामले पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दो टूक जवाब देते हुए बड़ा बयान दिया है। जानकारी के मुताबिक, सीएम नीतीश ने पार्टी के नेता और संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा को दो टूक कह दिया है कि जितनी जल्दी हो वो पार्टी से बाहर चले जाएं। बता दे की मीडिया से बात करते हुए नीतीश से जब पूछा गया कि उपेंद्र कुशवाहा कह रहे हैं कि आपकी पार्टी कमजोर हुई है। कई जदयू नेता भाजपा के सम्पर्क में हैं। इस पर नीतीश ने कहा कि जो लोग खुद भाजपा के सम्पर्क में हैं वही ऐसे बातें करते हैं। सीएम नीतीश ने कहा कि जो लोग कहते हैं कि पार्टी कमजोर हुई है उन्हें कहें कि खूब खुशी मनाएं। हमारी पार्टी कहां कमजोर हुई है। पहले की तुलना में हमारी सदस्यता दोगुनी हो गई है। पहले बिहार में जदयू सदस्यों की संख्या 43 से 44 लाख थी। अब सदस्यों की संख्या बढ़कर 75 लाख हो गई है। लेकिन कुछ लोग कुछ बोलते रहते हैं। ऐसे लोग फालतू का प्रचार करते हैं। भाजपा के सम्पर्क में जदयू के कई नेताओं के होने के सवाल पर कहा कि जो लोग संपर्क में है उनका नाम दीजिए। उन्होंने भाजपा और उपेंद्र कुशवाहा का नाम लिए बिना कहा कि जो खुद संपर्क में जाना चाहते हैं वही ऐसी बातें करते हैं। वही उपेन्द्र कुशवाहा को नसीहत देते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि जितना जल्दी जाना चाहते हैं, चलें जाए। बता दें कि जब से उपेंद्र कुशवाहा दिल्ली एम्स से रूटीन चेकअप करा कर बिहार वापस आए हैं तब से उनके जदयू से जाने की चर्चाओं ने बिहार की राजनीति का तापमान गर्म कर रखा है। खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी इस मामले से बचकर दिखाई दे रहे हैं। जब जब उनसे इस मामले पर पूछा गया तो उन्होंने कुछ बोलने से साफ इनकार किया और कहा कि उनकी बात उन्हीं से जाकर पूछिए और वह जो कहे उसे खूब लिखिए। वहीं उपेन्द्र कुशवाहा के आरोप पर सीएम ने कहा कि जो खुद बीजेपी के संपर्क में हैं, वे दूसरे पर आरोप लगा रहें हैं।

About Post Author

You may have missed