October 3, 2022

देश में विपक्षी पार्टियों पर एडी की कार्रवाई पर तेजस्वी का केंद्र पर हमला, बोले- सरकार बताए की विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे लोग कहां है

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) कांग्रेस, शिवसेना, टीएमसी, एनसीपी समेत कई विपक्षी दलों के नेताओं पर कार्रवाई कर रहा है। इस पर राष्ट्रीय जनता दल और बिहार प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने गुरुवार को कहा कि हम किसी जांच से नहीं डरते। हम इन एजेंसियों को याद दिलाना चाहेंगे। विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी कहां हैं? उनकी तलाश करने वाला कोई नहीं है, वे केवल टीएमसी, कांग्रेस, आरजेडी, समाजवादी पार्टी के लोगों को ढूंढते हैं। वे दो तरह से काम करते हैं – खरीदो जो बिकता है और डराओ, जो डरता है। नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से ED ने पूछताछ की। राहुल गांधी ने भी कहा कि मुझे धमकाकर चुप नहीं कराया जा सकता। मैं डरता नहीं। राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि सच्चाई को बैरिकेड नहीं किया जा सकता। कर लें जो करना है, मैं प्रधानमंत्री से नहीं डरता, मैं हमेशा देश हित में काम करता रहूंगा। सुन लो और समझ लो!

मुंबई की एक स्पेशल अदालत ने शिवसेना सांसद संजय राउत की ईडी को दी गई हिरासत की अवधि आठ अगस्त तक के लिए बढ़ा दी। उन्हें प्रवर्तन निदेशालय ने धनशोधन के एक मामले में गिरफ्तार किया है। केंद्रीय एजेंसी ने उपनगर गोरेगांव में पात्रा चॉल के पुनर्विकास में कथित वित्तीय अनियमितताओं और उनकी पत्नी तथा कथित साथियों के संपत्ति से जुड़े वित्तीय लेनदेन के संबंध में राउत को रविवार रात गिरफ्तार किया था। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता थॉमस इसाक को केआईआईएफबी में वित्तीय कारोबार में कथित अनियमितताओं की जांच के सिलसिले में पेश होने के लिए ED ने नोटिस जारी किया है। केरल के वाम लोकतान्त्रिक मोर्चा की पिछली सरकार में जब इसाक वित्त मंत्री थे तब केरल अवसंरचना निवेश कोष बोर्ड के वित्तीय कारोबार में कथित तौर पर नियमों का उल्लंघन हुआ था। इसके अलावे टीएमसी के मंत्री रहे पार्थ चटर्जी, एनसीपी के नवाब मलिक समेत कई अन्य पार्टी के नेताओं पर ED का कार्रवाई चल रही है।

About Post Author

You may have missed