November 26, 2022

केन्द्र और राज्य सरकार के खिलाफ युवा राजद का महाधरना

पटना : केन्द्र और राज्य सरकार के जन विरोधी नीतियों राज्य में बढ़ते हुए अपराध, हत्या, लूट, बलात्कार, बेरोजगारी, महंगाई, शैक्षणिक अराजक्ता, भ्रष्टाचार, गुजरात में बिहारियों पर हमला, सुपौल में कस्तुरवा बालिका विद्यालय में छात्राओं के साथ मार-पीट और अमानवीय व्यवहार को लेकर राज्यव्यापी महाधराना के तहत युवा राजद द्वारा केन्द्र और राज्य सरकार के खिलाफ गर्दनीबाग पटना में एक दिवसीय महाधरना दिया गया। महाधरना का अध्यक्षता सतीश चन्द्रवंशी और विकाश श्रीवास्तव ने किया।
धरना को संबोधित करते हुए राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डाॅ0 रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि देश भ्यावह स्थिति से गुजर रहा है। देश पर चारों ओर खतरा मंडरा रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देश की चिंता नहीं है, उनके शासनकाल में चारो ओर गड़बड़ ही गड़बड़ हो रहा है। राफेल सौदा में भारी घोटाला हुआ है। राफेल घोटाला से बचने के लिए आलोक वर्मा जैसे ईमानदार आॅफसर को छुट्टी पर भेजा है। गुजरात कैडर के सी.बी.आई. जाॅवाईंट डायरेक्टर राकेश अस्थाना को बचाने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय ने आलोक वर्मा पर दबाव बनाया परन्तु आलोक वर्मा सरकार के सामने नहीं झूका जिसके चलते प्रधानमंत्री के आंखों का काटा बन गये। क्योंकि आलोक वर्मा के द्वारा राफेल घोटाले के साक्ष्य को जुटाने का काम कर रहे थे। नरेन्द्र मोदी को अभाष हो गया कि आलोक वर्मा जैसे आॅफसर को रहते राफेल घोटाला से बच नहीं सकते हैं। जनता सब समझ चूकी है, पूरे देश में सरकार से भारी आक्रोश है, क्योंकि देश का चैकीदार चोर है। इस चोर चैकीदार को हटाने के लिए युवा तैयार हो जायें। वहीं भाजपा, जदयू पर प्रहार करते हुए कहा कि बिहार में एन.डी.ए. प्रवक्ताओं का सिर्फ एक हीं काम है लालू परिवार को गाली-गलौज करना। इन प्रवक्ताओं का मातृ भाषा ही गाली है।
युवा राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह सांसद शैलेश कुमार उर्फ बुलो मंडल जी ने नीतीश सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि राज्य में अपराधियों का समानांतर सत्ता कायम हो गया है। नीतीश सरकार में अपराधी वेलगाम हो गये हैं। जिसका परिणाम है आये दिन दिनदहारे हत्या, लूट, अपहरण, बलात्कार जैसे घटनाएं हो रही है। नीतीश सरकार ने शराब बंदी के नाम पर गरीब जनता की गाढ़ी कमाई को पानी के तरह बहाया। लेकिन सरकार का शराब बंदी पूर्णतः फेल साबित हुई। बेरोजगारी के कारण प्रदेश के छात्र नौजवान रोजगार की खोज में पलायन करने को मजबूर है। आये दिन राज्य के बाहर भाजपा शासित राज्य गुजरात महाराष्ट्र में बिहारी मजदूरों पर हमले हो रहे हैं, उन्हे पीटा जाता है, प्रताड़ित किया जाता है। केन्द्र की मोदी सरकार ने युवाओं को हर वर्ष दो करोड़ रोजगार मुहैया कराने का बादा कर पल्टी मारने का काम किया है। जिसके चलते नौजवों में भारी आक्रोश है। केन्द्र और राज्य की सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है। सरकार के वादाखिलाफी और राज्य में बढ़ते अपराध के विरूद्ध राजद युवाओं को गोलबंद करेगा।
सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री सह विधायक शिवचन्द्र राम ने कहा कि बिहार में विधी व्यवस्था पूरी तरह ठप हो गयी है। बिहार नीतीश कुमार से चलने वाला अब नहीं है। इसलिए स्वयं नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। हर वर्ग के लोग इस सरकार से उब चूंके है। आज प्रदेश में हत्या, लूट, बलात्कार, अपहरण आम हो गयी है। युवा राजद इसलिए परिवर्तन की लड़ाई लड़ रही है। केन्द्र राज्य सरकार में युवा नौकरी रोजगार के लिए सड़क में भीख मांग रहा है, लेकिन गुंगी सरकार नहीं सुन रही है।
युवा राजद के प्रदेश अध्यक्ष मो0 कारी सोहैब ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार के युवा विरोधी नीति के कारण आज युवा आत्म हत्या करने पर मजबूर है। नीतीश सरकार ने 12 वर्षो से अधीक अपने शासनकाल में एक भी कल-कारखाने, उद्योग स्थापित नहीं कर सके। जिससे की बिहार के युवाओं को रोजगार मिल सके। केन्द्र और राज्य सरकार को उखाड़ फेकने के लिए दूसरे चरण में युवा राजद राज्यव्यापी उग्र आन्दोलन करेगा।
युवा राजद के प्रदेश प्रवक्ता अरूण कुमार यादव ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार के विरूद्ध राज्य के सभी जिला में युवा राजद द्वारा महाधरना आयोजित किया गया। सभी जगह ऐतिहासिक महाधरना हुआ।
महाधरना में मौजूद राजीव झा, मंजीत कुमार, इकवाल अहमद, दिनेश पासवान, विनोद कुशवाहा, मुकेश यादव, शेखर यादव, शिवेन्द्र तांती, रामराज कुमार, नवनीत कुमार यादव, चन्दन कुमार, प्रशांत कुमार, सुरेन्द्र कुमार यादव, सुबोध कुमार, सुनील कुमार, राजू यादव, ओमप्रकाश चैटाला, आदित्य कुमार, महेश प्रसाद, पंकज कुमार, अजीत यादव, मनोज यादव, मो0 मुस्तफा, विजय राय, मन्टू कुमार यादव, पप्पू यादव, राजेश कुमार, विकाश वर्मा, दीपक कुमार, अभिषेक कुमार, नीरज कुमार, मोनू कुमार, लक्ष्मण यादव, दीपू कुमार, सत्येन्द्र पासवान सहित सैकड़ो लोग उपस्थित थे।

About Post Author

You may have missed