December 10, 2022

सिंगापुर जाने से पहले अध्यक्ष पद का लालू ने किया निवारण : जगदानंद सिंह बने रहेगें आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष, 2 अक्टूबर से नहीं जा रहे है पार्टी ऑफिस

पटना। राजद में अध्यक्ष पद का विवाद अपनी जगह पर थमा हुआ है। बता दे कि लालू प्रसाद ने एक बार फिर से जगदानंद सिंह को अध्यक्ष पद पर रहने को कहा है। बताते चले की राजद ने पार्टी चुनाव के बाद चुनाव आयोग को 23 नवंबर को जो जानकारी दी है, उसमें कहा गया की पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह है।
2 अक्टूबर से ही पार्टी ऑफिस नहीं जा रहे हैं
वही इस सब से अलग सच यह है कि जगदानंद सिंह की नाराजगी अभी भी बनी हुई है। वही उन्होंने आरजेडी ऑफिस आना शुरू नहीं किया है। बता दे की वे 2 अक्टूबर से ही पार्टी ऑफिस नहीं जा रहे हैं। मिली जानकारी के मुताबिक कहा जा रहा है कि कुछ बातों पर जगदानंद सिंह अपनी बात मनवाना चाहते हैं। लेकिन पार्टी के लिए उनकी बात मानना अभी संभव नहीं है। बता दें कि CM नीतीश कुमार से जगदानंद सिंह के रिश्ते तल्खी भरे रहे हैं। वही कहा जा रहा है की बेटे सुधाकर सिंह के कृषि मंत्री से इस्तीफा करवाने का दबाव नीतीश कुमार ने ही बनाया था। उसके बाद जगदानंद सिंह ने बेटे के इस्तीफे की घोषणा आरजेडी ऑफिस से की थी। यह और बात है कि जगदानंद सिंह ने इसे बलिदान की संज्ञा दी थी। वही इस बीच यह चर्चा खूब है कि नीतीश कुमार की राजनीतिक चालों को समझना हर किसी के बूते की बात नहीं। हालांकि जगदानंद सिंह राफ-साफ नेता हैं। जो बातें पार्टी फोरम पर या लालू प्रसाद के सामने बोलने की ही वे अन्य जगहों पर या मीडिया के सामने नहीं बोलते। वही एक बार तो उन्होंने गुस्से में कह भी दिया था। कौन हैं तेजप्रताप मैं RJD में सर्फ लालू प्रसाद को जानता हूं। लालू प्रसाद किडनी ट्रांसप्लांट के लिए 25 नवंबर को सिंगापुर जाने वाले हैं। वे चाहते तो हैं कि विवाद खत्म हो लेकिन जगदानंद तो जगदानंद सिंह हैं। जानकारी है कि लालू प्रसाद ने जगदानंद सिंह को अभी पद पर रहने को कहा है। उन्हें लगता है कि जगदानंद सिंह की पार्टी को अनुशासित रख सकते हैं।

About Post Author

You may have missed