December 10, 2022

पुलिस पर लोगों को बेवजह पीटने, परेशान करने पर नाराबाजी

पुलिस ने कहा गश्ती-सख्ती से गलत काम करने वाले परेशान

पटना सिटी। रोड किनारे बैठे, बात करते, पंचित बैठका या दूसरे के दरवाजे पर बैठे लोगों को पुलिस पिटाई कर पकड़ कर ले जाती है । यह सिलसिला कुछ दिनों से रानीपुर, रसूलपुर और बेना साह का बाग में देखा जा रहा है। लोग मंदिर, पंचित बैठका में भी बैठे रहते, तो पुलिस के द्वारा भगाया जा रहा है। गाली भी दी जाती है। यह आरोप दुर्गापूजा को लेकर हुई मीटिंग के बाद लोगों ने मेहंदीगंज थाना की पुलिस पर लगाया है। इसे लेकर लोगों ने आलोक साह, पूर्व पार्षद अवधेश कुमार सिन्हा, रामानंद सिंह, शेर सिंह आदि के नेतृत्व में मीटिंग के बाद पुलिस के इस कारनामे के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान राजा गोप, किशोर कुमार आदि भी शामिल थे। इन सबों ने इसकी शिकायत वरीय पुलिस अधिकारियों से करने की बात कही है। इस मामले में जब मेहंदीगंज थानाध्यक्ष से बात की गई तो उनका कहना था कि एरिया में पुलिस की गश्त बढ़ी है। रात में ताला बंद घर के बाहर बैठे या फिर देर रात मटरगश्ती करने वाले को टोकना, उससे पूछताछ करना, डांटना और उसे घर जाने को कहना पुलिस का रूटीन वर्क है। सच्चाई है कि गेसिंग, कूपन, जुआ और शराब बेचने का धंधा करने वालों पर सख्ती की गई है, इस कारण से इस धंधे से जुड़े लोग परेशान हो पुलिस पर गलत आरोप लगा रहे हैं।

About Post Author

You may have missed