December 10, 2022

गौरीचक में गोलीबारी से सुडीहा गाँव में तनाव, एक पक्ष ने लगाया पुलिस पर पक्षपात का आरोप

फुलवारी शरीफ | गौरीचक थाना इलाके का सुडीहा गाँव मंगलवार को जमीनी विवाद में गोलीबारी से थर्रा उठा | इसी गाँव में दो पक्षों में चली आ रही जमीनी विवाद में दर्जनों  राउंड गोलीबारी से गाँव में अफरा तफरी मच गयी | इस जमीनी विवाद को लेकर बीते  18 जुलाई को भी गोलीबारी की घटना घटी थी | गोलीबारी मामले में एक पक्ष ने गौरीचक थाना पुलिस पर दुसरे पक्ष की मदद करने का गंभीर आरोप लगाते हुए सीनियर एसपी पटना से शिकायत की है | एसएसपी मनु महाराज ने कहा की मामले की जांच की जा रही है |
                       गौरीचक के सुडीहा गाँव में रुद्रनाथ सिंह और सत्तार मिया के बीच वर्षो से जमीनी विवाद चला आ रहा है |इस विवाद में बराबर झगडा होते रहता है | यहाँ करीब नौ एकड़ 64 डिसमिल जमीन पर दो पक्ष दावा जता रहे हैं |इसी जमींन पर मंगलवार को करीब ग्यारह बजे दर्जनों राउंड गोलीबारी से तनाव का माहौल बन गया | वहीँ गौरीचक पुलिस का कहना है की एक राउंड गोली चली है लेकिन कोई खोखा नही मिला है |  
                                 सत्तार मिया का परिवार पहले इसी सुडीहा गाँव में रहता था |वर्षो पूर्व सत्तार मियाँ का परिवार गाँव छोड़कर दुसरे इलाके में जा बसे | सुबोध पासवान ने बताया की वर्ष 2012के पहले तक  रुद्रनाथ सिंह का परिवार सत्तार मिया के परिवार को जमीन के बदले में पट्टेदारी देता था लेकिन इसके बाद रुद्रनाथ सिंह ने इस जमींन पर अपना दवा जताने लगा | इसके बाद विवाद शुरू हो गया | सत्तार मिया ने इस जमीन को सुबोध पासवान को पट्टे पर दे दिया | लेकिन जमीन पर कब्जा रुद्रनाथ सिंह का बरक़रार रहा | विगत 18 जुलाई को इसी जमीन पर रुद्रनाथ सिंह फसल बूआई के तैयारी के लिए हथियार से लैस हो कर पहुंचे ट्रैक्टर चलाकर दवा का छिडकाव कराया जाने लगा  | जहाँ सुबोध पासवान से विरोध जताने पर गोलीबारी की घटना घटी थी | इस मामले में गौरीचक और धनरूआ समेत आस पास के थाने की पुलिस को कैम्प करना पड़ा था | इसी जमींन पर मंगलवार को भी दवा छिडकाव करने के दौरान गोलीबारी होने लगी | सुबोध पासवान ने बताया की गोलीबारी के दौरान वहां गौरीचक थाना की पुलिस पहुंची और रुद्रनाथ सिंह गुट को मदद करने लगी | इसकी शिकायत करने पर गौरिचक पुलिस ने कहा की ऊपर का आदेश है इसलिए दवा का छिडकाव हो रहा है |फिलहाल मामला कोर्ट में लंबित है | जबकि सुबोध पासवान ने बताया की रुद्रनाथ सिंह ने रुपये के बल पर पुलिस को मिलकर उसके ऊपर कई केस दर्ज करा चुके हैं  | सुबोध पासवान ने बताया की जब पुलिस वहां पहुंची तब वह अपने ऊपर पूर्व में हो चुके केस में जमानत नहीं मिले होने के कारन गिरफ्तारी के डर से दूर हट गये थे | इस मामले में रुद्रनाथ सिंह पक्ष से संपर्क नही हो सका है | वहीँ इस पुरे मामले में गौरीचक की पुलिस पर रुद्रनाथ सिंह की मदद करने का आरोप लगाते हुए सुबोध पासवान ने पटना के एसएसपी मनु महाराज से शिकायत किया है | एसएसपी मनु महाराज ने कहा की शिकायत मिली है उसकी जांच कराई जा रही है |
                           इस मामले में गौरीचक थानेदार कृष्ण मुरारी ने बताया की ग्रामीणों ने उन्हें एक राउंड ही गोली चलने की बात बतायी है | उन्होंने किसी गुट को मदद करने के आरोपों को गलत और निराधार बताया है |

About Post Author

You may have missed