February 5, 2023

यदि सदन में सांसद की बात नही सुनी जाती तो हमे सहयोग करे : रेलवे संघर्ष समिति

पटना,पालीगंज। यदि सदन में सांसदो की बात नही सुनी जाती तो वे हमे सहयोग करे। ये बाते सोमवार को पालीगंज बाजार स्थित बिहटा चौक पर जनता को सम्बोधित करते हुए रेलवे संघर्ष समिति के संयोजक मनोज यादव ने कहा। मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को रेलवे संघर्ष समिति के सैकड़ो कार्यकर्ताओ ने रेलवे संघर्ष समिति के संयोजक मनोज यादव के नेतृत्व में 5 जनवरी को औरंगाबाद से पद यात्रा शुरू किया। उनसभी ने कई इलाके से होते हुए सोमवार को पालीगंज पहुंचे। जहां बिहटा चौक पर उन सभी कार्यकर्ताओ को सामाजिक कार्यकर्ताओं व बाजार वासियों की ओर से फूल माला पहनाकर भव्य स्वागत किया गया। वही जनता को सम्बोधित करते हुए रेलवे संघर्ष समिति के संयोजक मनोज यादव ने बताया कि यह यात्रा औरंगाबाद समाहरणालय से शुरू की गई है। जो 155 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए हाजीपुर रेलवे जोनल कार्यालय तक की जाएगी। वही उन्होंने बताया कि सन 2 फरवरी 1980 में स्थानीय सांसद सह केंद्रीय मंत्री चंद्रदेव प्रसाद वर्मा ने औरंगाबाद से बिहटा तक 70 लाख जनता की सुविधाओं को ध्यान में रखकर रेलवे लाइन बिछाने का सपना देखा व पास कराया था। जिसे पूरा करने के लिए 16 अक्टूबर 2007 को रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव ने पालीगंज खेल मैदान में शिलान्यास किया था।

वही लालू यादव, नीतीश कुमार व रामबिलास पासवान ने रेलवे मंत्री बने। पूरे देश मे रेलवे लाइन की जाल बिछ गया। मेट्रो व बुलेट ट्रेन चलाने की बात चल रही है। लेकिन 42 वर्ष बीत जाने के बाद भी यहां छोटी सी भी रेलवे लाइन नही बिछाई गई। 2015 से 2022 तक इस इलाके के लोग धरना प्रदर्शन, भूख हड़ताल व पद यात्रा कर रही है। लेकिन इसपर सरकार की ध्यान नही है। वही उन्होंने कहा कि जिन इलाके से रेलवे लाइन गुजरेगी वहां से चार-चार सांसद है। यदि उन सांसदों की बात सदन में नही सुनी जाती है वे पदयात्रा में शामिल होकर रेलवे संघर्ष समिति को सहयोग करे। यह किसी खास व्यक्ति विशेष की मांग नही है बल्कि 70 लाख जनता की मांग है। वही इस मौके पर जवाहर प्रसाद गुप्ता, अजय कुमार, बिनोद चंद्रवंशी, दीपक कुमार व अशोक शर्मा सहित अन्य लोग मौजूद थे।

About Post Author

You may have missed