पटना में नाले में संदिग्ध हालत में मिला युवक का शव, निजी होटल में करता था काम

पटना। खगौल थाना क्षेत्र के निमतल्ला रोड कुम्हारटोली के पास गुरुवार को एक युवक का शव संदिग्ध परिस्थिति में नाले में मिला है। एक राहगीर ने नाले में तैरती हुई लाश देखकर पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही मौके पर भारी भीड़ इकट्ठा हो गई। पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और शव को बाहर निकालकर शिनाख्त में जुट गई। शव की पहचान मनोहर राम के बेटे कृष्णा राम के रूप में हुई है। कृष्णा राम बड़ी खगौल मस्जिद के पास किराए के मकान में रहता था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए दानापुर अनुमंडल अस्पताल भेज दिया है। इस दुखद घटना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। कृष्णा राम निमतल्ला रोड स्थित मुकुल होटल में काम करता था। होटल के मालिक ने बताया कि बुधवार की शाम 7 बजे कृष्णा ने अपनी तबियत खराब होने की बात कही थी। उसे उसी समय काम से छुट्टी देकर घर भेज दिया गया था। गुरुवार को होटल से करीब 150 मीटर की दूरी पर उसका शव नाले में मिला। खगौल थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टया लू लगने से मौत का संदेह है। हालांकि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारण का पता चल पाएगा। पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है और सभी पहलुओं पर ध्यान दिया जा रहा है। कृष्णा राम की मौत की खबर से परिवार और स्थानीय लोग स्तब्ध हैं। उसके परिजनों ने कहा कि कृष्णा एक मेहनती और जिम्मेदार युवक था। उसकी असमय मृत्यु ने सभी को गहरे सदमे में डाल दिया है। स्थानीय लोगों ने पुलिस से मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है। पुलिस ने आश्वासन दिया है कि मामले की गहराई से जांच की जाएगी और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर उचित कार्रवाई की जाएगी। इस घटना ने स्थानीय समुदाय में सुरक्षा को लेकर कई सवाल खड़े कर दिए हैं और लोगों में चिंता का माहौल बना हुआ है। पटना के खगौल थाना क्षेत्र में नाले में मिले युवक के शव ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं। पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। मृतक के परिजन और स्थानीय लोग इस घटना से बेहद दुखी हैं और न्याय की उम्मीद कर रहे हैं। कृष्णा राम की मौत के असली कारण का पता लगने के बाद ही मामले में और स्पष्टता आ सकेगी।

About Post Author

You may have missed