January 31, 2023

गोपालगंज : शिक्षक के निजी घर पर चल रहा था फर्जी अंचल कार्यालय, डीएम के आदेश पर हुई छापेमारी, दाखिल-खारिज के 13 दस्तावेज वरामद

गोपालगंज। बिहार के गोपालगंज में फर्जी जमीन का दाखिल-खारिज का एक और खेल सामने आ रहा है। बरौली अंचल पदाधिकारी कृष्णकांत चौबे पर कार्रवाई के बाद मांझागढ़ प्रखंड के अंचल पदाधिकारी शाहिद अख्तर सवालों के घेरे में आ गए हैं। मिली जानकरी के मुताबिक यहां एक अंचल कार्यालय शिक्षक के घर में चल रहा था। इसके बारे में जानकारी DM डॉ.। नवल किशोर चौधरी के निर्देश पर सदर SDM डॉ.। प्रदीप कुमार के द्वारा की गयी छापेमारी में सामने आयी। वही SDM के द्वारा की गयी छापेमारी से इलाके में हड़कंप मच गया। वही इस मामले में किसी को हिरासत लेने की जानकारी नहीं मिली है। पुलिस मामले की जांच गंभीरता से कर रही है।
डीएम के आदेश पर हुई छापेमारी : SDM
वही इस छापेमारी के बाद SDM डॉ.। प्रदीप कुमार ने बताया कि DM के निर्देश पर छापेमारी की कार्रवाई की जा रही है। छापेमारी में मांझाप्रखंड के BDO, थानाध्यक्ष समेत अन्य अदिकारी शामिल थे। इलाके में शिक्षक के निजी घर पर इस तरह अंचल कार्यालय चलाने को लेकर लोगों में पहले से तरह-तरह की चर्चा हो रही है। वही कुछ लोगों का कहना है कि शिक्षक की प्रशासन में काफी अच्छी पकड़ है। इसके बल पर वो काफी दिनों से ये काम कर रहा था। बता दे कि हाल में ही पटना के सीओ के द्वारा किराए के निजी मकान में अंचल कार्यालय चलाने का मामला सामने आया था। इसे लेकर भी जिला प्रशासन के द्वारा बड़ी कार्रवाई की गयी थी। बताया जा रहा है की आरोपी शिक्षक संतोष कुमार मांझागढ़ गांव के रहने वाला है। SDM के नेतृत्व में हुई छापेमारी में उसके घर से माधव हाइस्कूल की पंजी, विभिन्न पंचायतों के भू-वंशावली, मांझागढ़ का नक्शा, दुलुदलिया का रजिस्टर, दाखिल-खारिज का 13 दस्तावेज, अंचल पदाधिकारी का हस्ताक्षव मूहर 67 सेट, पंजी-टू का विभिन्नि पंचायत का 21 पीस, अंचल पदाधिकारी मांझा का मोहर कार्ड पीस, लगान रसीद 21 पीस, दाखिल-खारिज का छाया प्रति 106 पीस, दस्तावेज छाया प्रति 77 पीस, दस्तावेज की मूल प्रति सात पीस, निर्गत किया गया लगान रसीद का छाया प्रति 36 पीस, लैपटॉप, की-बोर्ड, चार्जर एक पीस, माउस, प्रिंटर, मोबाइल, पासबुक, 20 रुपये का चार बंडल, जिसमें कुल 80 हजार रुपए कैश, चेकबुक, पेन ड्राइव, पासपोर्ट, सादा स्टांप पेपर 12 पीस आदि बरामद किया गया।

About Post Author

You may have missed