December 5, 2022

PATNA : पुनपुन नदी में पुल निर्माण कराने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन, क्षेत्रीय नेताओ के खिलाफ दिखा आक्रोश

पटना। पालीगंज प्रखण्ड क्षेत्र के समदा गांव के ग्रामीणों ने समदा गांव के पास पुनपुन नदी पर पुल निर्माण कराने की मांग को लेकर शुक्रवार को नारेवाजी करते हुए प्रदर्शन किया। इस दौरान ग्रामीणों के बीच क्षेत्रीय नेताओ के खिलाफ आक्रोश दिखाई दिया। जानकारी के अनुसार पालीगंज प्रखण्ड क्षेत्र के समदा गांव के ग्रामीणों ने शुक्रवार को गांव के पास पुनपुन नदी के पास पहुंचे। जहां उन ग्रामीणों ने गांव के पास पुनपुन नदी पर पुल निर्माण कराने की मांग को लेकर क्षेत्रीय नेता हाय हाय का नारेवाजी करते हुए जमकर प्रदर्शन किया मौके पर मौजूद दिनेश भगत व उपेंद्र पंडित ने बताया कि यहां प्रत्येक वर्ष सोनपुर के बाद बिहार की सबसे बड़ी मवेशी मेला का आयोजन मकर संक्रांति के अवसर पर की जाती है। जहां देश के कई राज्यो से लोग व्यवसाय करने आते है साथ ही यहां लाखो की संख्या में खरीददार व पर्यटक आते है। साथ ही इस नदी के दोनों ओर सड़क है लेकिन पुल नही होने से लोगो का आवागमन बाधित है। जब मेला का उद्घाटन करने मंत्री आते है तो यह पुल बनवाने का आश्वासन देते है। उसके बाद कोई सुध तक लेने नही आते। कई बार मेला का उद्घाटन करने स्थानीय सांसद सह पूर्व केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव पहुंचे। उन्होंने हम सभी से वादा किये लेकिन वे आजतक निभा नही पाए।

विधायको को तो कहना क्या है उन लोगो को तो इसकी आवश्यकता ही महसूस नही होती। जबकि इस पुल के निर्माण होने से लोगो को आने जाने में काफी सुविधा होगी। जहानाबाद पहुंचने में जहां घूमकर 40 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है वही इस पुल का निर्माण हो जाने पर मात्र 18 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ेगी। वही उन ग्रामीणों का कहना था कि इस इलाके के क्षेत्रीय नेता केवल पार्टी के नाम पर जीत हासिल करते है। उनकी अपनी पहचान ही क्या है? उदाहरण देते हुए कहा कि बिगत विधानसभा चुनाव के दौरान बहेरिया निरखपुर गांव के मतदाताओं ने रोड नही तो वोट नही का नारा देकर वोट का बहिष्कार तक किया। लेकिन आजतक पालीगंज से किंजर भाया निरखपुर गौसगंज सड़क पर मिट्टी तक नही डाली गई। इन नेताओं ने जनता की मांगों को अनदेखी कर लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा रखे है।

About Post Author

You may have missed