December 10, 2022

भारत ने किया अग्नि प्राइम न्यू जेनरेशन बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण, 1000 से 2000 किमी तक लक्ष्य को भेदने में सक्षम

नई दिल्ली। भारत ने आज सुबह ओडिशा के तट से अग्नि प्राइम न्यू जेनरेशन बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया। वही रक्षा अधिकारियों ने टेस्ट के बाद कहा कि परीक्षण के दौरान मिसाइल ने अधिकतम रेंज हासिल की। वही उन्होंने कहा की इसने सभी टेस्ट सफलतापूर्वक पास किए। लगातार तीसरे टेस्ट के साथ ही अग्नि प्राइम मिसाइल सटीकता और विश्वसनीयता के आयाम में खरी उतरी है।
अग्नि प्राइम मिसाइल की 2 हजार किमी तक रेंज
वही रक्षा अधिकारी ने बताया कि अग्नि प्राइम मिसाइल अग्नि श्रेणी की नई पीढ़ी मिसाइल का एडवांस वैरिएंट है। यह 1000 से 2000 किमी तक लक्ष्य को भेदने में सक्षम है। वही उन्होंन बताया कि यह मिसाइल MIRV तकनीक से लैस है। बता दे की इस मिसाइल को अब्दुल कलाम द्वीप के लंचिंग कंपलेक्स 4 से सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है। ये मिसाइल परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम है। वही इस मिसाइल की मारक क्षमता 1000 से 2000 किलोमीटर तक है तथा यह अपने साथ 1.5 टन परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम है।
10.5 मीटर लंबा और 1.5 मीटर चौड़ा है मिसाइल
बता दें कि मध्यम दूरी का यह बैलिस्टिक मिसाइल 10.5 मीटर लंबा और 1.5 मीटर चौड़ा है। भारतीय स्ट्रैटेजिक कमांड फोर्स के जवानों ने आज इसका परीक्षण किया है। भारत के पास पहले से ही अग्नि 1 से लेकर अग्नि 5 तक के मिसाइल मौजूद हैं और इन सभी मिसाइलों का सफलतापूर्वक परीक्षण कर चुका है। इसके साथ-साथ अब भारत अपने कई मिसाइलों में अत्याधुनिक गुण भर के उनका परीक्षण कर रहा है।
अत्याधुनिक साजो सामान से लैस
वही मिली जानकारी के अनुसार यह मिसाइल अत्याधुनिक साजो सामान से लैस है। नई पीढ़ी की परमाणु सक्षम बैलेस्टिक मिसाइल अग्नि प्राइम में अत्याधुनिक साजो सामान से लैस किए गए हैं। जानकारी के मुताबिक इस मिसाइल के ट्रायल उड़ान के दौरान मिसाइल ने अधिकतम सीमा की यात्रा की और सभी परीक्षण उद्देश्यों को अच्छे से पूरा किया।

About Post Author

You may have missed