January 31, 2023

बक्सर में लाठीचार्ज के बाद किसानों का बवाल, पत्थरबाजी के बाद पुलिस छावनी बना पूरा इलाका

बक्सर। बिहार के बक्सर जिले में पुलिस का अमानवीय चेहरा देखने को मिला है। यहां रात 12:00 बजे घर में सो रहे किसानों पर पुलिस ने बर्बरतापूर्वक लाठी बरसाए। इसका वीडियो किसानों के परिजनों ने साझा करके पूछा कि अपराधियों के सामने घुटने टेक देने वाली पुलिस ने आखिर हमें इतना बर्बरता से क्यों मारा? पुलिस की कार्रवाई से किसान उग्र हो गए और उन्होंने पुलिस की गाड़ियों में आग लगा दी। दरअसल, चौसा में एसजेवीएन के द्वारा पावर प्लांट के लिए किसानों का भूमि अधिग्रहण 2010-11 से पहले ही किया गया था। किसानों को 2010 -11 के सर्किल रेट के अनुसार मुआवजा मिला। कंपनी ने 2022 में जमीन अधिग्रहण करने की कार्रवाई शुरू की तो किसान अब वर्तमान दर के हिसाब से अधिग्रहण की जाने वाली जमीन के मुआवजा मांग रहे हैं। किसानों का आरोप है कि कम्पनी पुराने दर पर ही मुआवजा देकर जबरदस्ती जमीन अधिग्रहण कर रही है। इसके विरोध में पिछले 2 महीने से किसान आंदोलन कर रहे है। इस पर पुलिस ने रात्रि घर में घुसकर महिलाओं-पुरुषों के साथ ही बच्चों पर बर्बरतापूर्वक लाठी बरसाईं।

जानकारी के अनुसार, किसान उग्र हुए जिले के कई किसानों ने पुलिस बज्रवाहन समेत एसजेवीएन के गेट पर आग लगा दी। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने करीब 6 राउंड की हवाई फायरिंग भी की। पूरा इलाका पुलिस छावनी बना हुआ है। दोनों तरफ से पत्थरबाजी हो रही है। दरअसल चौसा में एसजेवीएन के द्वारा पावर प्लांट के लिए किसानों का भूमि अधिग्रहण 2010-11 से पहले ही किया गया था। उस समय किसानों को 2010-11 के अनुसार मुआवजे का भुगतान किया गया था। दोबारा जब कम्पनी ने 2022 में किसानों की जमीन अधिग्रहण करने की करवाई शुरू की तो अब किसान वर्तमान दर के हिसाब से अधिग्रहण की जाने वाली जमीन का मुआवजा मांग रहे हैं।

About Post Author

You may have missed