December 10, 2022

टी20 वर्ल्ड कप 2024 : आईसीसी ने बदला टी20 वर्ल्ड कप का नियम, नहीं होगा क्वालीफायर राउंड

नई दिल्ली। T20 वर्ल्ड कप 2024 अलग प्रारूप में खेला जायेगा। जिसमें भाग लेने वाले 20 देशों को 5-5 टीमों के 4 ग्रुप में विभाजित किया जायेगा। जबकि पहले दौर के बाद सुपर 8 चरण होगा। वही आईसीसी के अनुसार वर्ष 2024 टूर्नामेंट के अंतिम 8 स्थान क्षेत्रीय क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट से तय होंगे। वही बता दे की जिम्बाब्वे की टीम टी20 वर्ल्ड कप 2022 के अभियान में मजबूत शुरुआत का फायदा नहीं उठा सकी और सुपर 12 ग्रुप में अंतिम स्थान पर रही। जिससे उन्हें क्षेत्रीय क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट खेलना होगा। वही अफ्रीका, एशिया और यूरोप के दो-दो क्वालिफिकेशन स्थान होंगे। जबकि अमेरिका और पूर्व एशिया प्रशांत क्षेत्र दोनों से एक-एक स्थान होंगे। वेस्टइंडीज और अमेरिका में खेले जाने वाले अगले चरण के टूर्नामेंट के लिए 12 टीमें पहले ही अपना स्थान पक्का कर चुकी हैं। मेजबान वेस्टइंडीज और अमेरिका ने पहले दो स्थान हासिल किये। हाल में ऑस्ट्रेलिया में समाप्त हुए टी-20 विश्व कप की शीर्ष आठ टीमें (सुपर 12 ग्रुप में प्रत्येक से शीर्ष चार टीमें) 2024 टूर्नामेंट के लिए क्वालिफाइ कर चुकी हैं, जिसमें मौजूदा चैंपियन और उप विजेता पाकिस्तान शामिल हैं।

अफगानिस्तान और बांग्लादेश भी अपना स्थान पक्का कर चुकी हैं। वही 2024 में होने वाले T20 वर्ल्ड कप में कोई क्वालीफायर मुकाबला नहीं खेला जायेगा। जैसा कि 2022 में खेला गया था। इसके साथ ही सुपर-12 वाले कंसेप्ट को भी समाप्त कर दिया गया है। वही अब टीमें सीधे सुपर 8 में प्रवेश करेंगी और वहीं से आगे का रास्ता तय होगा। टीमों को ज्यादा लीग खेलने का अवसर जरूर मिलेगा, लेकिन क्वालीफायर राउंड नहीं होगा। वही टी20 वर्ल्ड कप 2024 में पांच-पांच टीमों के 4 अलग-अलग ग्रुप होंगे। प्रत्येक ग्रुप की टॉप 2 टीमें सुपर-8 चरण में जगह बनायेंगी। वही सुपर-8 को फिर 4-4 के दो ग्रुप में विभाजित किया जायेगा। सुपर 8 के दो ग्रुप में से प्रत्येक से शीर्ष दो-दो टीमें सेमीफाइनल खेलेंगी, इसके बाद फाइनल खेला जायेगा।

About Post Author

You may have missed