जाते-जाते वफादारी का परिचय दे रहे हैं सीबीआई डायरेक्टर : चित्तरंजन गगन

पटना। सीबीआई द्वारा आज एक राज्यसभा सांसद और एक राजद विधायक के यहां की गई छापेमारी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि सीबीआई के वर्तमान डाइरेक्टर अवकाश ग्रहण करने के बाद अपने पुनर्वास के लिए अपने आकाओं को खुश करने के लिए विपक्षी नेताओं के यहां छापेमारी करवा रहे हैं। ज्ञातव्य है कि सीबीआई के वर्तमान डाइरेक्टर सुबोध कुमार जायसवाल आगामी 25 मई को अवकाश ग्रहण करने जा रहे हैं। वही राजद प्रवक्ता ने कहा कि विपक्षी नेताओं के यहां केन्द्रीय एजेंसियों के छापामारी पर अब कोई आश्चर्य नहीं होता। चूंकि यह सर्वविदित हो चुका है कि केन्द्र की भाजपा सरकार भाजपा विरोधी नेताओं को परेशान करने और उन्हें बदनाम करने के लिए सारे वैधानिक और लोकतांत्रिक मर्यादाओं को तोड़ते हुए केन्द्रीय एजेंसियों का बेजा इस्तेमाल कर रही है। बिहार में महागठबंधन सरकार के गठन के समय हीं उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा था कि अब जैसे-जैसे लोकसभा का चुनाव नजदीक आते जाएगा केन्द्रीय एजेंसियों की गतिविधियां तेज होती जाएगी। मा. लालू प्रसाद जी, मा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव जी के पहल और प्रयास से राष्ट्रीय स्तर पर गैर भाजपा दलों की एकता को मिल रही सफलता से BJP काफी घबराहट महसूस कर रही है। हिमाचल प्रदेश के बाद कर्नाटक में मिले जबरदस्त हार ने भाजपा की बेचैनी को काफी बढ़ा दिया है। वही आगामी लोकसभा चुनाव में अपनी सुनिश्चित हार को देखते हुए केन्द्र सरकार केन्द्रीय एजेंसियों के माध्यम से गैर भाजपा दलों के नेताओं को झूठे आरोप लगाकर उलझाए रखने की योजना पर काम कर रही है। राजद प्रवक्ता ने कहा कि सीबीआई के वर्तमान डाइरेक्टर सुबोध कुमार जायसवाल आगामी 25 मई को अपने अवकाश ग्रहण करने के पहले अपने आकाओं को खुश कर अवकाश ग्रहण करने के बाद अपने पुनर्वास का जुगाड़ लगा रहे हैं।

About Post Author