February 5, 2023

मकर संक्रांति पर पटना में नाव का परिचालन रहेगा बंद, प्रशासन का आदेश जारी

पटना। मकर संक्रांति का त्योहार 14 और 15 जनवरी को मनाया जाता है। इस अवसर पर लाखों की संख्या में श्रद्धालु पटना के गंगा नदी तट पर और गंगा नदी में बने टापू पर परिवार के साथ पहुंचते है। गंगा नदी के तट पर श्रद्धालु नाव के द्वारा एक किनारे से दूसरे किनारे जाया करते थे, जिस पर 2017 की घटना के बाद से रोक लिया दिया गया है। इस साल भी मकर संक्रांति के दिन नाव का परिचालन बंद रहेगा, जिसके कारण नाविकों को काफी नुकसान हो रहा है। मकर संक्रांति के दिन नाव परिचालन बंद रहने से हमें काफी नुकसान होता है। प्रशासन अपने नियम और निगरानी के तहत नाव को चलने दे। एक नियम तय कर दें कि एक नाव पर 20 लोग ही सवार हो सकता है और इस नियम के अनुसार हम अपने नाव को चलाएंगे। त्योहारों में नाव चलाने से हमारी अच्छी कमाई होती है, जिससे हम अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दे पाते हैं। हर त्योहार में नाव चलाने पर रोक लगा दिया जा रहा है। इस बार नया साल में भी हमारी कमाई नहीं हो पाई। नाव परिचालन पूरे साल जारी रहता है लेकिन त्योहारों में क्यों रोक लगा दिया जाता है? अगर सुरक्षा के साथ नाव चलाएंगे तो दुर्घटना नहीं होगी। मकर संक्राति के अवसर पर जिला प्रशासन द्वारा 23 गंगा घाटों पर 32 दंडाधिकरियों तथा पुलिस पदाधिकारियों की तैनाती की गई है। साथ ही स्पेशल मोबाईल टीम द्वारा सघन पेट्रोलिंग की जाएगी। वाच टावरों से भीड़ की निगरानी के साथ मुख्य स्थलों पर क्यूआरटी तैनात किया गया है।

About Post Author

You may have missed