December 6, 2022

शाहनवाज हुसैन को हवाबाज कहने पर बीजेपी ने ललन सिंह को घेरा, कहा- सात जन्म के बाद भी नही कर सकते बराबरी

मोकामा। बिहार की मोकामा विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव में महागठबंधन की प्रत्याशी नीलम देवी के पक्ष में जेडीयू नेता ललन सिंह प्रचार करने पहुंचे। मोकामा में रोड शो करते हुए ललन सिंह ने बीजेपी नेताओं पर जमकर निशाना साधा। ललन सिंह ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता शाहनवाज को निशाने पर लेते हुए हुसैन को हवा-हवाई नेता करार दिया। ललन सिंह ने कहा कि मोकामा और गोपालगंज में कोई लड़ाई है क्या। ललन सिंह ने अपने अकड़ वाले अंदाज में कहा कि आपलोग जो सवाल कर रहे हैं, उसमें आपको समझना चाहिए, कोई लड़ाई है। उन्होंने कहा कि आपलोगों को मोदी की आंधी का पता चल जाएगा। आने वाली 6 तारीख को। ललन सिंह ने इस दौरान ये भी कहा कि 40 क्या आप 80 स्टार प्रचारक उतार लीजिए कुछ नहीं होगा। इस दौरान शाहनवाज हुसैन पर प्रहार करते हुए ललन सिंह ने कहा कि वो पुराना हवाबाज हैं। उनका काम ही है हवाबाजी। खाली हवाबाजी से नहीं होता है। ललन सिंह ने इस दौरान ये भी कहा कि महागठबंधन का समर्थन करने के लिए जनता तैयार है। जनता का हमें समर्थन मिल रहा है। हम मोकामा घूम रहे हैं। 6 तारीख को वोटों की गिनती होगी, मोकामा का सारा रिकॉड टूट जाएगा।

वहीं शाहनवाज पर हमले के बाद बीजेपी ने ललन सिंह पर निशाना साधा है। बीजेपी प्रवक्ता डॉ. निखिल आनंद ने कहा कि सात जन्म में ललन सिंह शाहनवाज हुसैन की बराबरी नहीं कर सकते। 1999 में पहली बार लोकसभा पहुंचे शाहनवाज हुसैन को अटल बिहारी वाजपेयी ने मंत्री बनाया। उन्होंने 2006 और 2009 में भी लोकसभा का चुनाव जीता। वाजपेयी सरकार में उन्हें नागरिक उड्डयन मंत्री बनाया गया। निखिल आनंद ने कहा कि जेडीयू के नेता पहली बार 2000 में राज्यसभा भेजे गए। उसके बाद 2004 में चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे। उनकी कोई तुलना नहीं है शाहनवाज हुसैन से। बिहार सरकार में उद्योग मंत्री रहे शाहनवाज हुसैन की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी तारीफ करते रहे हैं। शाहनवाज हुसैन को एक विनम्र और बेहतरीन नेता के तौर पर जाना जाता है। वहीं ललन सिंह के हमले के बाद शाहनवाज हुसैन के समर्थन में पूरी पार्टी आ गई है।

About Post Author

You may have missed