August 11, 2022

राजनीतिक शेखचिल्ली बन गये हैं RJD के युवराज : राजीव रंजन

पटना। तेजस्वी के स्वघोषित मुख्यमंत्री बनने पर चुटकी लेते हुए शुक्रवार को भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष व मीडिया विभाग के प्रभारी राजीव रंजन ने कहा कि जिस प्रकार बच्चे राजा-रानी का खेल खेलते हैं, उसी तरह कल राजद के युवराज विधानसभा में ‘सीएम-सीएम’ खेल रहे थे। आश्चर्य यह था कि पार्टी के दिग्गज नेता भी इस खेल में शामिल हो, अपने युवराज का जी बहलाने की भरपूर कोशिश कर रहे थे। इससे पता चलता है कि अपने कारनामों से लोगों का मनोरंजन करने में राजद के युवराज अपने राजनीतिक गुरु राहुल गांधी से भी दो कदम आगे बढ़ गये हैं। यही हाल इनके चाटुकारों का है परिवार की चाकरी के फेर में अपनी इज्जत को भी तार-तार कर रहे हैं।
कांग्रेस को लपेटते हुए उन्होंने कहा कि बहरहाल इनकी राजनीतिक नौटंकी देख अब डर इस बात का है कि संसद के अगले सत्र में कहीं कांग्रेस अपने युवराज को ‘पीएम-पीएम’ का खेल न खेलाने लगे। तेजस्वी और उनके सिपहसालारों को हमारी सलाह है कि विधानसभा लोकतंत्र का मंदिर होता है, उसे अपने खेल का मैदान न बनाए. नहीं तो यदि कल तेजस्वी ने चोर-पुलिस का खेल खेलने की जिद थाम लिया तो उनके सिपहसलारों को विधानसभा में भाग-भाग कर छुपना होगा। उन्होंने कहा कि तेजस्वी के इस आचरण से यह स्पष्ट हो गया है कि अब वह पूरी तरह से राजनीतिक शेखचिल्ली बन गये हैं। उन्हें पता है कि बिहार की जनता उन्हें दुबारा मौका देने वाली नहीं है तो अब वह स्वघोषित सीएम बन कर अपना शौक पूरा कर रहे हैं।
तेजस्वी द्वारा भाजपा पर डरने के लगाये आरोप को हास्यास्पद बताते हुए श्री रंजन ने कहा कि उपर से नीचे तक वंशवाद और घोटालों के कीचड़ में सनाया राजद जो हर जगह हाथ-पैर मारने के बाद भी आज तक बिहार-झारखंड से आगे नहीं बढ़ पाया और जिनकी खुद की राजनीति कांग्रेस, वामपंथियों और झामुमो के रहमोकरम पर टिकी हो, उसके युवराज को भाजपा जैसे दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी पर ऐसा बयान देने से पहले सौ बार सोचना चाहिए था।

You may have missed