December 10, 2022

बिहार के मरीजों के लिए खुशखबरी,पटना एम्स में ए.पी.एस सुविधा आरंभ

फुलवारी शरीफ।  एम्स दिल्ली एवं एसजीपीजीआई लखनऊ के बाद पटना एम्स में मरीजों को एक अनोखी तरक्की अत्याधुनिक सुविधा उपलब्ध कराया गया है। इस सुविधा के जरिए मरीजों को हर तरह के दर्द से छुटकारा पाने के लिए एक्यूट पेन सर्विसेज नामक यंत्र का बटन भर दबाना पड़ेगा । इस यंत्र के जरिए मरीज अपने दर्द का निवारण अपनी सुविधा के अनुसार कर सकते हैं ।  शुक्रवार को पटना एम्स में इस चिकित्सकीय सुविधा  का शुभारंभ किया गया।  इस यंत्र के जरिए किसी भी तरह की सर्जरी के दर्द को नियंत्रित कर सकेंगे । इतना ही नही प्रसव पीड़ा का दर्द भी महिलाएं अपने अनुसार कम कर पाएंगी।
एम्स पटना के निदेशक डॉ.पी.के. सिंह के नेतृत्व में इस मशीन का सुचारू रूप से संचालन विभाग में शुरू किया जा चुका है। एनेस्थीसिया विभाग की यह एक सराहनीय पहल है।
एम्स निदेशक डॉ पीके सिंह ने बताया कि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), पटना में एनेस्थीसिया विभाग द्वारा पहली बार एक्यूट पेन सर्विसेज (ए.पी.एस.) की शुरूआत की गई है। इसके तहत हर तरह के ऑपरेषन के बाद होने वाले दर्द एवं प्रसव पीड़ा का पूर्णतः निवारण मरीज द्वारा स्वयं किया जा सकेगा। इसके लिए पी.सी.ए. पम्प (पेशेंट कंट्रोल्ड एनालजेसिक पंप) नाम के यंत्र की मदद ली जाती है। मरीज को दर्द से निजात, इस यंत्र में लगे एक बटन के प्रयोग से मिल सकेगी।अब तक यह सुविधा देश के चंद संस्थानों जैसे एम्स दिल्ली एवं एसजीपीजीआई लखनऊ में ही उपलब्ध है।उन्होंने बताया कि पी.सी.ए. पम्प एक ऐसा यंत्र है, जिसकी मदद से मरीज अपने दर्द की तीव्रता के अनुसार मशीन में लगे बटन को दबाकर ही दर्द को असाधारण रूप से कम कर सकेगा। एनेस्थीसिया विभाग के डॉ.अजीत, डॉ.चांदनी, डॉ.सगुफ्ता, डॉ.रजनीष, डॉ. अभ्युदय, डॉ.पूनम, डॉ.अमरजीत एवं डॉ.नीरज के सम्मिलित महत्वपूर्ण योगदान से यह संभव हो पाया है।

About Post Author

You may have missed