November 26, 2022

‘भैया आज सहल ही भैया छोड़ द..’ कहकर गिड़गिड़ाती रही महिला और वो करता रहा दुष्कर्म

बाढ़ दुष्कर्म कांड का दूसरा आरोपी भी गिरफ्तार, समाज को सोचने पर किया विवश

पटना/बाढ़। भैया आज सहल ही भैया…छोड़ द भैया…ना भैया…अरे बाप रे…हे भगवान… यह आवाज उस पीड़ित व बेबस महिला की है जो अपने बेटे की लंबी उम्र के लिए जितिया पर्व की हुई थी और गंगा स्नान करने के लिए बाढ़ अनुमंडल के एक घाट पर गई हुई थी लेकिन हवसी दरिंदों ने उक्त महिला पर बिना तरस खाए उसके साथ जबरदस्ती दुष्कर्म की घटना को अंजाम देकर समाज को कलंकित और सोचने पर विवश कर दिया है। हालांकि आरोपी दुष्कर्मी शिवपूजन महतो (35 वर्ष) और उसके सहयोगी विशाल कुंमार को बाढ पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता पा ली है। दोनों गिरफ्तार आरोपी पटना जिला के बाढ के ही जलगोविंद गांव के रहने वाले हैं। शिवपूजन की गिरफ्तारी मंगलवार की शाम अथमलगोला से घटना के कुछ घंटे बाद ही हो गई थी, जबकि दूसरे आरोपी की गिरफ्तारी बुधवार को बाढ स्टेशन के समीप से होने की सूचना है। आरोपियों ने दुष्कर्म की पराकाष्ठा को पार करते हुए पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया है। उक्त 45 वर्षीय पीड़ित महिला भी जलगोविंद गांव की रहने वाली बतायी जाती है। इस मामले को मैनेज करने के लिए रविवार को दिनभर कसरत का दौर जारी था, अगर वीडियो वायरल नहीं होता तो सब मैनेज हो जाता लेकिन ग्रामीण एसपी ने तत्परता से कार्रवाई करते हुए घटना के कुछ घंटे में ही मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और मैनेज करने वाले मुंह देखते रह गए।
उक्त वीडियो में आरोपी पीड़ित महिला के साथ किस तरह दुर्व्यवहार कर रहे हैं, वह वीडियो हम आपको तो नहीं दिखा सकते हैं लेकिन वीडियो में साफ तौर पर दिख रहा है कि पीड़ित महिला गंगा में स्नान करती दिख रही है, उसके बाद आरोपी बस चालक व जलगोविंद गांव का निवासी व बाढ से बिहारशरीफ तक बस चलाने वाला बस चालक शिव पूजन महतो आता है और बिना समय गुजारे महिला के साथ जबरदस्ती करना शुरू कर देता है। वहीं महिला खुद को बचाने के लिए भागने का प्रयास करती है परंतु आरोपी उसे गंगा तट पर पकड़ कर उसके साथ जबरदस्ती दुष्कर्म करता दिख रहा है और विरोध किए जाने पर गंगा में डूबाने की धमकी देकर मुंह हाथ से दबा रहा है। वहीं एक व्यक्ति वीडियो बना रहा है, जो व्यक्ति वीडियो बना रहा था, उसकी पहचान विशाल कुमार के रूप में हुई है और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।
उक्त घटना की पूरे बाढ अनुमंडल में चर्चा है। लोग यह भी कहते सूने जा रहे हैं कि बाढ में पहली बार इस तरह की घटना घटित हुई है, जो समाज को शर्मसार कर रख दिया है। इस मामले में सबसे अहम सवाल यह है कि जब सब कुछ साफ है किसने बलात्कार किया, किसने वीडियो बनाकर वायरल किया, तो क्या एक महीने में पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए पुलिस प्रशासन एक हफ्ते के अन्दर चार्जशीट फाईल करेगी और स्पीडी ट्रायल करा दुष्कर्मी को सजा दिलाएगी?

About Post Author

You may have missed