December 10, 2022

बाढ़ दुष्कर्म पीड़िता से मिलने पहुंचे पप्पू, फूट-फूट कर रोयी पीड़िता, मांगी इंसाफ

बाढ़ (अखिलेश्वर सिन्हा)। सोमवार सुबह 8.30 बजे जन अधिकार पार्टी लो के राष्ट्रीय संरक्षक सह सांसद पप्पू यादव बाढ़ दुष्कर्म कांड की पीड़िता से मिलने जलगोविन्द गांव पहुुंचे। पीड़िता से मिलकर उसके न्याय की लडाई लड़ने का भरोसा दिलाया और पीड़ित महिला को रोजगार शुरू करने के लिए 20000 हजार रूपए की आर्थिक मदद की, साथ ही साथ बाढ एएसपी से फोन पर बात कर इस मामले में जल्द से जल्द चार्जशीट दाखिल कर अपराधियों को फांसी की सजा दिलाने की मांग की। इस दौरान बिहार में बढ़ते अपराध और गुजरात में बिहारी और हिंदी भाषी मजदूरों के साथ हो रहे हिंसा पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित केन्द्र के मोदी सरकार पर जमकर प्रहार किए और गुजरात में जारी हिंसा को रोकने की मांग किया। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अगर सरकार रोकने में विफल रही तो पार्टी पूरे बिहार में गुजरातियों का लोकतांत्रिक तरीके से विरोध करेगी और बिहार में घुसने से रोकेगी तथा नेताओं को काला झंडा दिखा कर विरोध जताने का काम करेगी।

पप्पू यादव जलगोविन्द के बाद बाढ़ चोन्दी मुहल्ला में पार्टी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष मो. अरशद रहमान के आवास पर भी थोड़ी देर रूके, फिर खगड़िया के लिए प्रस्थान कर गए। इस दौरान पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रो. श्यामदेव सिंह चौहान, युवा शक्ति अध्यक्ष अजय कुमार, किसान प्रकोष्ठ अध्यक्ष कुमार सुनील कुवंर, युवा परिषद अध्यक्ष पियूष यादव, अनुसूचित प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव सरयुग दास, प्रधान महासचिव अरूण कुमार, किसान प्रकोष्ठ प्रदेश सचिव शिवनन्दन, उपाध्यक्ष संजय कुमार सिंह, धर्मेन्द्र कुमार सिंह उर्फ पप्पू, रामचंद्र प्रसाद, बीएन प्रसाद, जिला सचिव चंदन कुमार, बिनोद कुमार, राकेश कुमार यादव उर्फ मुनी जी, युवा शक्ति जिला उपाध्यक्ष रंजीत कुमार, पंडारक प्रखंड अध्यक्ष युवा शक्ति हरिकांत कुमार, बाढ़ प्रखंड युवा शक्ति अध्यक्ष रंधीर कुमार यादव, अथमलगोला युवा शक्ति प्रखंड अध्यक्ष अमरनाथ प्रसाद, बख्तियारपुर प्रखंड अध्यक्ष संतोष कुमार यादव, अथमलगोला प्रखंड अध्यक्ष मनोज महतो, बाढ़ प्रखंड अध्यक्ष विजय यादव, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष मो शकील, नगर उपाध्यक्ष मो असलम, नगर अल्पसंख्यक सचिव मो महमूद, शंकर पासवान, कुन्दन कुमार, जितेन्द्र कुमार यादव सहित सैकड़ों कार्यकर्ता और आमलोग मौजूद रहे।

About Post Author

You may have missed