परिवारवाद की दुहाई देने वाले पीएम बिहार की पहली जनसभा परिवारवाद के उम्मीदवार के लिए कर रहे : तेजस्वी यादव

  • पूर्व उपमुख्यमंत्री का एनडीए पर हमला, बोले- चिंता मत कीजिए, बिहार में इंडिया चौंकाने वाला रिजल्ट देगा

पटना। बिहार में लोकसभा चुनाव को लेकर एक बार फिर परिवारवाद को आधार बनाया जा रहा है। जहां एक तरफ लालू ने अपनी दोनों बेटियों को चुनावी मैदान में उतारा इसके बाद एनडीए के नेताओं ने महागठबंधन पर परिवारवाद को लेकर हमला किया वहीं अब बुधवार को बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने भी बीजेपी पर जमकर हमला किया है। बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने बुधवार को कहा बीजेपी में जितने नेता गए, जांच एजेंसियों ने उन सबके केस क्लोज कर दिए। 70 हजार करोड़ का घोटाला किया हो या जो हो, बीजेपी में जाने के बाद उन्हें मंत्री बना दिया जाता है। हमारा अपना दल है, अपना गठबंधन है, हम अपने प्रत्याशी के लिए पूर्णिया जा रहे हैं और हमें पूरा विश्वास है कि बीमा भारती भारी मतों से जीतेंगी। बिहार का रिजल्ट चौंकाने वाला होगा। तेजस्वी ने कहा कि पीएम मोदी लगातार परिवारवाद पर बोलते रहे हैं, और पहली जनसभा की शुरुआत ही वो परिवारवाद के उम्मीदवार से कर रहे हैं। उनके कथनी और करनी में भारी अंतर है। परिवारवाद के सबसे ज्यादा टिकट एनडीए खेमे में दिए जा रहे हैं। पीएम मोदी आ रहे हैं तो उनको ये बताना पड़ेगा कि उन्होंने बिहार के लिए क्या किया। कुछ किया तो नहीं, बिहार को चूना लगाया उन्होंने। 39 सांसदों ने अपने लोकसभा क्षेत्र में क्या किया, इसपर सारे सांसद बताएं। परिवारवाद के मुद्दे पर इससे पूर्व राजद नेता लालू प्रसाद यादव ने प्रधानमंत्री मोदी के परिवार को लेकर सवाल उठाया था। जिस पर भाजपा ने मैं मोदी का परिवार हूं की मुहिम चला दी। इस मुद्दे पर लालू यादव और उनके सहयोगी दलों को सियासी पिच पर बैकफुट पर आना पड़ा। अब एक बार फिर परिवारवाद के मुद्दे पर विपक्ष ने सवाल उठाने शुरू कर दिये हैं।
पीएम मोदी की कथनी और करनी में बड़ा अंतर है
पीएम मोदी कल जमुई में चुनाव प्रचार करने आ रहे हैं और इस सीट से एनडीए ने इस बार चिराग पासवान के जीजा अरुण भारती को अपना कैंडिडेट बनाया है। ऐसे में अब तेजस्वी ने इसको लेकर पीएम मोदी पर जोरदार हमला बोला है। तेजस्वी यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री आ रहे हैं तो अपने चुनाव प्रचार में आ रहे हैं और चुनाव प्रचार में आ रहे हैं तो परिवारवाद के बारे में वह बोलते रहेंगे। लेकिन उनको खुद सोचना चाहिए कि वो अपने पहले चुनावी सभा की शुरुआत थी परिवारवाद के उम्मीदवार के लिए कर रहे हैं। ऐसे में आप खुद समझ सकते हैं कि उनके कथनी और करनी में कितना बड़ा अंतर है।
बीजेपी में जितने नेता गए, उन सबके केस क्लोज कर दिए
वहीं, तेजस्वी ने एनडीए के कैंडिडेट लिस्ट पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि वो लोग लगातार जिक्र करते थे परिवारवाद का तो इस बार लगातार उनके ही खेमे से सबसे ज्यादा परिवारवादी नेता को टिकट दिए जा रहे हैं। ऐसे में पहले उनको खुद विचार करना चाहिए फिर कुछ बोलना चाहिए। लेकिन, इस बार एक चीज़ और वो बिहार आ रहे हैं तो बताना चाहिए कि- उन्होंने बिहार के लिए क्या किया? उन्होंने तो कुछ किया नहीं बल्कि उल्टा बिहार को सिर्फ चूना लगाया है। पिछली बार 39 सांसदों को बिहार के जनता ने जीत कर भेजा तो बताना चाहिए कि इन सांसदों ने अपने-अपने क्षेत्र में क्या किया. इसके अलावा तेजस्वी ने एक बार फिर से ईडी और सीबीआई के एक्शन को लेकर कहा कि जिस तरह से सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है बीजेपी में जितने नेता शामिल हुए उन सभी लोगों का ईडी और सीबीआई के तरफ से केस क्लोज कर दिया गया। तो हमलोग तो सभी चीज देख रहे हैं।
बिमा भारती बहुमत से साथ चुनाव में जीत हासिल करेंगी
उधर, पप्पू यादव के पूर्णिया से चुनाव लड़ने के सवाल पर तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारा अपना दल है और हमारा अपना गठबंधन है हम अपने प्रत्याशी के लिए पूर्णिया जा रहे हैं और उनका नामांकन है तो हम उसमें शामिल हो रहे हैं। इसके अलावा मुझे यही कहना है कि बिमा भारती बहुमत से साथ चुनाव में जीत हासिल करेंगी। जस्वी ने पप्पू यादव पर कोई भी बयान नहीं दिया बल्कि मीडिया के सवालों से बचते हुए नजर आए। उन्होंने फिर कहा कि हमारा गठबंधन कांग्रेस पार्टी के साथ है और इंडिया गठबंधन में सीट शेयरिंग होने के बाद सभी दलों को उनके सीट दे दिए गए हैं। सीटों के बंटवारे के साथ ही सभी दल अपनी-अपने चुनाव की तैयारी में लग गए हैं। हमारा महागठबंधन बिहार में मजबूती के साथ खड़ा है और हम लोग मिलकर बिहार में मोदी जी का रथ रोकने का काम करेंगे। इसके साथ ही तेजस्वी ने पप्पू यादव पर बातचीत करने से इनकार किया जिससे यह बात साबित होता है कि अभी भी पूर्णिया को लेकर महागठबंधन में सब कुछ सही नहीं है और यह सीट बिहार में महागठबंधन की परेशानी को लगातार बढ़ता नजर आ रहा है।

About Post Author

You may have missed