December 6, 2022

किसानों पर लाठीचार्ज के खिलाफ निकला किसान बचाओ-देश बचाओ न्याय मार्च

पटना। जन अधिकार छात्र परिषद् के द्वारा पटना विश्वविद्यालय से कारगिल चौक तक किसान न्याय मार्च का आयोजन किया गया। यह मार्च दिल्ली-यूपी सीमा पर अपने जायज मांगों को लेकर शांतिपूर्ण संसद मार्च कर रहे लाखों किसानों के ऊपर केन्द्र सरकार के पुलिसिया जुल्म के खिलाफ निकाला गया। मार्च के माध्यम से सैकड़ों छात्रों ने केन्द्र सरकार पर देश के किसानों तथा छात्रों के साथ वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए केन्द्र सरकार एवं यूपी सरकार के खिलाफ खूब नारेबाजी की। मार्च का नेतृत्व कर रहे छात्र परिषद के प्रदेश अध्यक्ष गौतम आनन्द ने कहा कि केन्द्र की सरकार पूर्ण रूप से किसान विरोधी एवं लोकतंत्र विरोधी हो गई है। इस सरकार को देश के किसानों की तनिक भी चिंता नहीं है। भारत जैसे कृषि प्रधान देश में किसान ही लाठी-गोली का शिकार हो रहा है। ऐसा भयावह दिन देश के किसानों ने कभी नहीं देखा था। किसानों के साथ केन्द्र द्वारा कल किया गया अत्याचार मोदी सरकार को अंग्रेजी हुकूमत के समकक्ष लाकर खड़ा करती है। जल्द से जल्द किसानों के सभी मांगों को केन्द्र सरकार पूरा करे नहीं तो परिषद्, जन अधिकार पार्टी एवं सांसद पप्पू यादव बिहार से दिल्ली तक किसानों के हित में आर-पार की लड़ाई लड़ने का काम करेगा। मार्च के बाद सभी साथियों ने कारगिल चौक पर सभा का आयोजन किया, सभा का संचालन संयुक्त रूप से कुन्दन यादव एवं शशांक मोनू ने किया एवं सभा का समापन राहुल आनंद एवं आर्यन यादव के द्वारा किया गया। सभा को प्रवीण मिश्रा, अशोक, प्रणव, मुकेश, नीतीश, अंकित, पुनपुन, निर्भय, रितेश, राहुल, हकीम, अविनाश, चन्दन, अनुभव, रौशन, अमरदीप, गोलू, सुजीत ने भी संबोधित किया।

About Post Author

You may have missed