December 8, 2022

कोरानसराय में भूख से दो बच्चों की मौत पर जानिए अनिल सिंह ने राजग को क्या-क्या कह डाला

महंगाई के मुद्दे पर 10 सितंबर को कांग्रेस के भारत बंद को समर्थन देगी जविपा

पटना। जनतांत्रिक विकास पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल कुमार ने डुमरांव अनुमंडल स्थित कोरानसराय थाना के मुसहरी टोला महादलित बस्ती भूख से हुए दो बच्चों की मौत मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर केस दर्ज कराने और उनके इस्तीफे की मांग की। पटना स्थित प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि राज्य में डबल इंजन की सरकार चल रही है, फिर भी लोग भूख से मरने को मजबूर हैं। ये कैसी सरकार है और ये कैसा शासन है। उन्होंने पूछा कि नीतीश कुमार के शासन के लगभग 14 साल पूरे हो गए हैं, ऐसे में उन्होंने बिहार को क्या बना दिया है। बात विकास की करते हैं और लोग भूख से मर रहे हैं। पिछले दिनों ही करहगर में एक दलित महिला ने अपने बच्चों के साथ भूख की वजह से ही आत्महत्या कर ली थी। श्री कुमार ने मुख्यमंत्री से पूछा कि आखिर उनकी अंतरात्मा कब जगेगी, जब भाजपा अपने गठबंधन से उन्हें बाहर कर देगी तब? उन्होंने कोरानसराय में भूख से मौत के मामले में प्रशासन के उदासीन रवैये पर भी सवाल खड़े किये और कहा कि दोनों बच्चों के मौत के लिए कहीं न कहीं स्थानीय प्रशासन जिम्मेवार है, क्योंकि महीने भर पहले उस परिवार के मुखिया को पुलिस ने जेल में बंद कर दिया था। उसके बाद उस घर में कमाने वाला कोई नहीं बचा और उस परिवार के सामने भूखे रहने की नौबत आ गई। एक बच्चे की मौत के बाद भी प्रशासन लापरवाह बनी रही, जब अगले दिन भूख से दूसरे बच्चे की मौत हुई, तब प्रशासन की ओर से उस परिवार को अनाज दिया गया।
उन्होंने कहा कि इस मामले में जब हमने कल एसडीए से मुआवजे की मांग की तोए उन्होंने मुआवजा देने से साफ इंकार कर दिया और कहा कि मामला आपदा का नहीं है। इसलिए मुआवजा नहीं मिलेगा। जबकि पार्टी का मानना है कि इस मामले में प्रशासनिक लापरवाही से बच्चों की मौत हुई है। ये मौत नहीं हत्या है, इसलिए जिस तरह नीतीश कुमार दलित कल्याण की बात कर अपना पीठ थपथपाते हैं, उसी तरह इस मामले में उनपर मुकदमा दर्ज हो और पीड़ित परिवार को मुआवजा मिले। साथ ही नीतीश कुमार अपनी नैतिकता को जगाकर इस्तीफा दें। श्री कुमार ने डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमत पर कांग्रेस पार्टी द्वारा 10 सितंबर को आयोजित बंद को भी समर्थन देने की बात कही। संवाददाता सम्मेलन में प्रदेश अध्यक्ष संजय कुमार मंडल और प्रदेश उपाध्यक्ष प्रशांत प्रियदर्शी भी मौजूद रहे।

About Post Author

You may have missed