एनएमसीएच में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल समाप्त, मांगों पर बनी सहमति

पटना सिटी (आनंद केसरी)। एनएमसीएच में जूनियर डाक्टरकन की हड़ताल अधीक्षक से हुई बातचीत और मांगों को जल्द लागू करने के मामले में सहमति बनी। इसकर बाद अध्यक्ष डॉ रविरंजन कुमार रमण ने हड़ताल समाप्त करने की घोषणा की।
इन मांगों पर बनी सहमति
जेडीए के साथ सुपरिटेंडेंट डॉ चंद्रशेखर की बात नालंदा मेडिकल कालेज के सेमिनार हॉल में हुई। इसमें सहमति बनी की लेबर रूम के आगे ग्रिल लगेगा, तीनों इमरजेंसी में पास सिस्टम लागू करने, लेडीज गार्ड की तैनाती और स्कैनर लगाने, लेबर रूम से सामने, सेंट्रल इमरजेंसी और शिशु इमरजेंसी में हाई रिजोल्यूशन सीसीटीवी 4 दिनों में लगाने, मे आई हेल्प यू लेबर रूम के सामने खोलने, तीनों इमरजेंसी में बेरिकेडिंग, अलार्म सिस्टम लगाने, गाइनी में डॉक्टर के साथ हाथापाई करने वाले मरीज के परिजनों पर एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई करने और पीजी डॉक्टरों के हॉस्टल की मरम्मत करा सुविधा प्रदान करना है। जेडीए की ओर से डॉ रविरंजन रमण, डॉ निर्मला कुमारी, डॉ रणविजय भारती, डॉ रिजवान अहमद, डॉ राहुल शेखर, डॉ पल्लवी कुमारी, डॉ ममता कुमारी, डॉ लालबिहारी याफ शामिल थे। डीएस डॉ गोपाल कृष्ण ने बताया कि जूनियर डॉक्टरों ने हड़ताल समाप्ति की घोषणा कर काम पर लौट आए हैं। स्थिति पूरी तरह सामान्य है।

About Post Author