November 26, 2022

छात्रों ने एआईटीटीई परीक्षा का किया बहिष्कार, दूसरी पाली भी संशय में

पटना सिटी (आनंद केसरी)। राजकीयकृत मारवाड़ी उच्च विद्यालय में आज राज्य व्यवसायिक प्रशिक्षण परिषद के द्वारा परीक्षा का आयोजन किया गया था। परीक्षार्थियों ने परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं किया। वे लोग स्कूल के बाहर सड़क पर बैठ गए और आईटीआई के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। स्कूल के प्राचार्य सह केंद्र अधीक्षक पुनीत किशोर रजक ने बार-बार ध्वनि विस्तारक यंत्र से उन लोगों को समझाने और सुबह 9.30 हो जाने के कारण परीक्षा केंद्र में प्रवेश करने की बात कही, मगर छात्रों का कहना था कि वे लोग परीक्षा नहीं देंगे। बिहार के विभिन्न भागों से परीक्षार्थी यहां परीक्षा देने आते हैं। एक ही पेपर का वे तीन बार परीक्षा सीसीटीवी की निगरानी में दे चुके हैं। मगर सेंटर रद्द होने के कारण परीक्षा रद्द हो गया। राहुल, गणेश, मुकेश, सिकंदर, अरुण आदि ने कहा कि हम लोगों में दोष नहीं है।

पिछली बार लिए एग्जाम के आधार पर ही उनसबों का रिजल्ट प्रकाशित किया जाए। पूर्व में भी झारखंड में प्रश्न पत्र आउट हुआ था, मगर वहां परीक्षा लेने के बाद परीक्षाफल प्रकाशित कर दिया गया। वहीं दूसरी ओर बिहार में परीक्षा केंद्र को रद्द कर दिया गया। प्राचार्य पुनीत किशोर रजक ने बताया कि राज्य व्यवसायिक प्रशिक्षण परिषद के द्वारा सेमेस्टर थर्ड का इंजीनियरिंग का परीक्षा होना है। इसमें 338 छात्रों को बिल्डर, फीटर आदि पद के लिए परीक्षा परीक्षार्थियों को देना है। एक तरह से कहें तो परीक्षार्थी परीक्षा का बहिष्कार कर दिया है। दूसरी पाली की परीक्षा 2:30 बजे से शुरू होनी है। इसमें एआईटीटीई यानी राज्य व्यवसायिक प्रशिक्षण परिषद के सेकंड सेमेस्टर के छात्रों का पेपर वन का एग्जाम होना है। यदि छात्रों का इसी तरह परीक्षा बहिष्कार के बाद रोड पर हंगामा करने की स्थिति बनी रही, तो दूसरी पाली की परीक्षा पर भी संशय का तलवार लटक सकता है। प्राचार्य सह केंद्र अधीक्षक पुनीत किशोर रजक ने कहा कि इस संबंध में राज्य व्यावसायिक प्रशिक्षण परिषद के प्रशासन को सूचित करने के साथ ही स्थानीय पुलिस प्रशासन को भी इस संबंध में खबर कर दी गई है।

About Post Author

You may have missed