December 6, 2022

‘मी टू’ कैंपेन’ः महिला पत्रकारों ने राष्ट्रपति से लगायी गुहार, बर्खास्त हों एम.जे. अकबर

अमृतवर्षाः ‘मी. टू’ कैंपेन के तहत योन शोषण के आरोपों का सामने कर रहे केन्द्रीय मंत्री एम.जे. अकबर ने भले हीं आरोपों को नकार दिया हो और इस्तीफे से इंकार कर दिया हो लेकिन कई महिला पत्रकारों ने एम.जे. अकबर की बर्खास्तगी को लेकर राष्ट्रपति से गुहार लगायी है।मी टू कैंपन के जोर पकड़ने के साथ ‘द एशियन एज’ अखबार में काम कर चुकीं 20 महिला पत्रकार अपनी सहकर्मी प्रिया रमानी के समर्थन में आईं और यहीं नहीं उन्होंने राष्ट्रपति से भी गुहार लगाई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, महिला पत्रकारों के एक ग्रुप ने एम जे अकबर को बर्खास्त करने की मांग की है और इसके लिए उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक पत्र भी लिखा है। बता दें कि पत्र में लिखा गया है कि हम बेहद चिंतित हैं कि वह केंद्रीय मंत्रिपरिषद में मंत्री पद पर बने हुए हैं। इससे उनके कथित कुकर्मो की स्वतंत्र एवं निष्पक्ष जांच प्रभावित हो सकती है। इसलिए आप उन्हें उनके पद से हटा दें। एमजे अकबर ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में आपराधिक मानहानि का मामला भी दर्ज किया है। इस मामले की सुनवाई 16 अक्टूबर को होगी।

About Post Author

You may have missed