December 8, 2022

लालू लीला’: लालू पर खुलासों की किताब में तेजस्वी- तेजप्रताप का बनाया गया कार्टून कैरेक्टर*

अमृतवर्षा: राजद सुप्रीमो लालू यादव पर लिखी बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी की किताब लालू लीला सुर्खियों में है. इस किताब की वजह से बिहार की राजनीति भी गर्म है. राजा इस किताब को झूठ का पुलिंदा बता बता चुकी है. लालू लीला पर बिहार की राजनीति और गर्म आ सकती है. किताब में तेजस्वी और तेज प्रताप का कार्टून कैरेक्टर बनाया गया है.सुशील मोदी ने लालू लीला में लालू यादव को अपना सीना चीर खड़े दिखाया है. हनुमान के सीने में राम और सीता थे. लेकिन लालू के सीने में सुशिल मोदी ने मॉल, प्लॉट, शेयर, होटल दिखाया है. सुशील मोदी ने सबसे पहले मिट्टी घोटाले का ही खुलासा किया था जिसके बाद की घटनाओं ने बिहार में राजनीतिक भू चाल ला दिया था. लालू लीला में इसका जिक्र है कि कैसे तेजस्वी के बन रहे मॉल की मिट्टी खपाने के लिए घोटाले के तहत पटना जू में पगडंडी बनाने का खाका बनाया गया और मिट्टी सप्लाई की गई जिसकी कोई जरूरत नहीं थी.सुशील मोदी ने लालू लीला में लालू यादव को अपना सीना चीर खड़े दिखाया है. हनुमान के सीने में राम और सीता थे. लेकिन लालू के सीने में सुशिल मोदी ने मॉल, प्लॉट, शेयर, होटल दिखाया है. सुशील मोदी ने सबसे पहले मिट्टी घोटाले का ही खुलासा किया था जिसके बाद की घटनाओं ने बिहार में राजनीतिक भू चाल ला दिया था. लालू लीला में इसका जिक्र है कि कैसे तेजस्वी के बन रहे मॉल की मिट्टी खपाने के लिए घोटाले के तहत पटना जू में पगडंडी बनाने का खाका बनाया गया और मिट्टी सप्लाई की गई जिसकी कोई जरूरत नहीं थी.सुशील मोदी ने लालू लीला में लालू यादव को अपना सीना चीर खड़े दिखाया है. हनुमान के सीने में राम और सीता थे. लेकिन लालू के सीने में सुशिल मोदी ने मॉल, प्लॉट, शेयर, होटल दिखाया है. सुशील मोदी ने सबसे पहले मिट्टी घोटाले का ही खुलासा किया था जिसके बाद की घटनाओं ने बिहार में राजनीतिक भू चाल ला दिया था. लालू लीला में इसका जिक्र है कि कैसे तेजस्वी के बन रहे मॉल की मिट्टी खपाने के लिए घोटाले के तहत पटना जू में पगडंडी बनाने का खाका बनाया गया और मिट्टी सप्लाई की गई जिसकी कोई जरूरत नहीं थी.सुशील मोदी ने किताब के जरिए ये भी बताया है कि तेजस्वी यादव लालू के ज्यादा करीब हैं और तेज प्रताप की संपत्ति अपने छोटे भाई से कम है. इस लालू लीला में और कई बड़े अहम् खुलासे मोदी ने किये हैं

About Post Author

You may have missed