December 5, 2022

आरोप:50 से अधिक समर्थकों के साथ पटना एम्स में घुसे कन्हैया ने की बदसलूकी

फुलवारी शरीफ । पटना एम्म्स में एडमिट एआईएसएफ के राज्य सचिव सुशील कुमार को देखने पहुंचे जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय दिल्ली के एक्स प्रेसिडेंट कन्हैया कुमार वार्ड में अपने 50 से अधिक समर्थककों के साथ घुस गए। इस दौरान इतनी अधिक संख्या में वार्ड में घुसने का एम्स के गार्ड और जूनियर डॉक्टरों ने जब कन्हैया कुमार को रोका तब कन्हैया और उनके समर्थकों ने बदसलूकी कर दी । इससे एम्म्स के गार्ड और जूनियर डॉक्टरों के साथ कहासुनी के बाद विवाद बढ़ गया । कन्हैया पर मारपीट का भी आरोप एम्स के जूनियर डॉक्टरों और ने गार्ड ने लगाया है । रविवार की देर शाम कन्हैया अपने समर्थक सुशील कुमार को देखने पहुंचे थे । सुशील कुमार का कंधे की चोट का ऑपरेशन हुआ है जिनकी एक दो दिनों में अस्पताल से छुट्टी होने वाली है। रविवार की घटना को लेकर सोमवार को एम्स में जूनियर डॉक्टरों और गार्ड ने विरोध जताते हुए मुख्यमंत्री से सुरक्षा की गुहार लगाई है । एम्स के जूनियर डॉक्टरों का प्रतिनिधि मंडल एम्स डायरेक्टर से मिलने पहुंचा है । जहां एम्स के प्रबंधन से जूनियर डॉक्टरों ने ऐसे हालात से निपटने और सुरक्षा व्यवस्था की मांग कर दी है । एम्म्स के वरीय चिकित्सक डॉ सीएम सिंह ने बताया की कन्हैया कुमार कल सुशील सिंह को देखने पहुंचे थे जिनके साथ 50 से अधिक संख्या में लोग वार्ड में घुस गए । एम्स के जूनियर डॉक्टरों , अटेंडेंट और गार्ड्स ने कन्हैया को यह बताते हुए रोका की इतनी संख्या में वार्ड में आने से यहाँ एडमिट मरीजो को इंफेक्शन हो सकता है । इसपर कन्हैया और उनके समर्थकों ने बदसलूकी करनी शुरू कर दी कि वे पब्लिक फेस हैं उन्हें नही रोक सकते हैं। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया । डॉ सिंह ने बताया कि विवाद को सुलझा लिया गया है । एम्स के जूनियर डॉक्टरों और अटेंडेंटस की सुरक्षा संबंधी मांगो को मान लिया गया है । अब एम्म्स में कोई समस्या नही है और ओपीडी समेत सभी कामकाज सुचारू रूप से चल रहे हैं ।

About Post Author

You may have missed