December 10, 2022

गोपालगंज उपचुनाव में प्रशासन ने बाहरी लोगों के लिए जारी किये निर्देश, मतदान से 48 घंटे पहले छोड़े जिला नही तो होगी गिरफ्तारी

  • मतदान केंद्र के 200 मीटर के दायरे में किसी भी पार्टी का नही बनेगा कार्यालय

गोपालगंज। बिहार उपचुनाव की तैयारी अब तेज कर दी गयी है। आगामी 3 नवबंर को प्रदेश की दो सीटों पर मतदान होना है। इनमें एक सीट गोपालगंज का है। जहां राजद और भाजपा के उम्मीदवार आमने-सामने है। जबकि बसपा और एआईएमआईएम के उम्मीदवार समेत कुल 9 प्रत्याशी मैदान में हैं। मतदान को लेकर प्रशासन की ओर से तैयारी की जा रही है। यहां जिले से बाहर के लोगों के लिए सख्त निर्देश जारी किये गये हैं। मतदान के दिन की तैयारी को लेकर गोपालगंज जिला प्रशासन ने अपनी तैयारी तेज कर दी है। यह फरमान जारी कर दिया गया है कि बाहरी व्यक्तियों को मतदान से 48 घंटे पहले ही गोपालगंज विधानसभा क्षेत्र को छोड़ देना होगा। अन्यथा मतदान में गड़बड़ी की आशंका को देखते हुए उनकी गिरफ्तारी कर कार्रवाई की जाएगी। वहीं मतदान केंद्र के 200 मीटर के दायरे में किसी भी पार्टी का कार्यालय नहीं बनेगा।
गोपालगंज में प्रवेश के सभी मार्गों पर स्टैटिक सर्विलांस टीम तैनात
गोपालगंज में उपचुनाव तीन नवंबर को है। इसको लेकर गोपालगंज में प्रवेश के सभी मार्गों पर स्टैटिक सर्विलांस टीम की तैनाती कर दी गयी है। वहीं उन्हें निर्देश दिया गया है कि उत्तर प्रदेश, बेतिया, सिवान और मुजफ्फरपुर की दिशा से आने वाली वाहनों की सघन जांच की जाये। वाहनों की जांच का वीडियोग्राफी भी कराया जाएगा। गोपालगंज की सीट भाजपा विधायक सुभाष सिंह के निधन के बाद खाली हुई है। बीजेपी ने उपचुनाव में उनकी पत्नी को उम्मीदवार बनाया है। राजद ने भाजपा के सामने अपना उम्मीदवार उतारा है। जबकि लालू यादव के गृह जिला में इस बार उनके साले साधु यादव ने अपनी पत्नी को बसपा के टिकट पर मैदान में उतारा है। वहीं ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम भी इस बार ताल ठोकने मैदान में है। कुल मिलाकर 9 उम्मीदवारों के बीच इसबार टक्कर होगी।

About Post Author

You may have missed