लालू पर गिरिराज सिंह का हमला, कहा- परिवार तक सिमट कर अब वे बेहद कमजोर नेता बने, उनकी बातों का कोई अस्तित्व नहीं

पटना। आरजेडी के 28वें स्थापना दिवस समारोह को संबोधित करते हुए लालू प्रसाद ने भविष्यवाणी की थी कि अगस्त के महीने में नरेंद्र मोदी की सरकार गिर जाएगी। लालू के इस बयान पर बीजेपी ने हमला बोला है। गिरिराज सिंह ने लालू यादव पर तंज कसते हुए कहा कि अब वह सिर्फ अपने परिवार तक सिमट कर रह गए हैं और उनकी राजनीतिक स्थिति बहुत कमजोर हो गई है। सिंह ने दावा किया कि लालू की बातों का अब कोई महत्व या अस्तित्व नहीं बचा है। लालू यादव को नीतीश कुमार का पैर छूकर प्रणाम करना चाहिए और नीतीश कुमार का फोटो लगा हुए एक लॉकेट गले में धारण कर लें। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार से 2015 में एक भूल हुई कि उन्होंने लालू फैमिली को नई राजनीतिक जिंदगी दी। इसलिए लालू प्रसाद नीतीश कुमार का फोटो लगा हुआ लॉकेट पहने नहीं तो फिर 22 पर जाकर लटक जाएंगे। इसलिए वह नीतीश कुमार का पैर छूकर प्रणाम करें, कि उन्हें और उनकी पार्टी को नया जीवन दे दिया। गिरिराज सिंह ने कहा की लालू प्रसाद यादव एक समय बिहार की राजनीति के प्रमुख चेहरा थे, लेकिन अब वह केवल अपने परिवार तक सीमित होकर रह गए हैं। उनकी राजनीतिक पकड़ कमजोर हो चुकी है और उनके बयानों का अब कोई प्रभाव नहीं रह गया है। गिरिराज सिंह ने यह बयान उस समय दिया जब बिहार में राजनीतिक गतिविधियां तेजी से बढ़ रही हैं। उन्होंने लालू यादव के परिवारवाद पर भी कटाक्ष किया और कहा कि यादव परिवार ने हमेशा अपने स्वार्थ के लिए राजनीति की है, जिससे राज्य का विकास प्रभावित हुआ है। सिंह ने कहा लालू यादव ने अपने परिवार को राजनीतिक मंच पर आगे बढ़ाने के लिए बिहार की जनता के हितों की अनदेखी की है। यही कारण है कि आज उनकी राजनीति और उनकी बातों का कोई प्रभाव नहीं रह गया है। वहीं तेजस्वी यादव द्वारा बिहार में पुलों के गिरने पर हमला बोलने पर गिरिराज सिंह ने कहा कि तेजस्वी को कोई ज्ञान नहीं है। चुनाव के बाद विदेश में जश्न बना रहे हैं और ट्वीट कर रहे हैं। जो पुल गिर रहे हैं वह या तो कांग्रेस के समय के हैं या तेजस्वी के पथ निर्माण मंत्री रहते बने थे। पुलों के गिरने की घटना की जांच हो रही है, तेजस्वी यादव को परेशान होने की जरूरत नहीं है। गिरिराज सिंह के इस बयान के बाद राजनीतिक हलकों में हलचल मच गई है। राजद के नेता और लालू यादव के समर्थक इस बयान की निंदा कर रहे हैं। राजद नेताओं ने कहा कि गिरिराज सिंह के आरोप बेबुनियाद हैं और उनका मकसद केवल राजनीतिक लाभ उठाना है। उन्होंने कहा कि लालू यादव अभी भी बिहार की जनता के बीच लोकप्रिय हैं और उनकी राजनीति का प्रभाव कम नहीं हुआ है। यह पहली बार नहीं है जब गिरिराज सिंह ने लालू यादव पर हमला किया है। वह अक्सर अपने बयानों से राजनीतिक विरोधियों पर निशाना साधते रहते हैं। इस बार भी उनके बयान से बिहार की राजनीति में हलचल मच गई है और आने वाले दिनों में इस मुद्दे पर और भी बयानबाजी होने की संभावना है। बिहार की राजनीति में इस समय जिस तरह की बयानबाजी और आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है, उससे यह साफ है कि आने वाले समय में यहां की राजनीतिक स्थिति और भी गर्म हो सकती है। लालू यादव और गिरिराज सिंह के बीच इस तरह की बयानबाजी से यह भी स्पष्ट होता है कि बिहार की राजनीति में अभी भी पुरानी रंजिशें कायम हैं।

About Post Author

You may have missed