February 5, 2023

पटना में जदयू और राजद का दही चूड़ा भोज रद्द, शरद यादव के निधन से लिया गया फैसला

पटना। पूर्व केंद्रीय मंत्री और जदयू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव के निधन से राजनीतिक गलियारे में शोक की लहर है। उनके निधन के कारण तेजस्वी यादव के आवास पर होने वाला दही चूड़ा भोज स्थगित कर दिया गया है। वहीं जेडीयू के संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा के आवास पर आयोजित मकर संक्रान्ति का भोज भी रद्द कर दिया गया है। बिहार के उपमुख्यमंत्री और शरद यादव को अपने पितातुल्य मानने वाले तेजस्वी यादव उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने दिल्ली जा रहे हैं। दरअसल कई साल बाद लालू आवास पर आयोजित मकर संक्रांति का भोज शरद यादव के निधन के बाद रद्द कर दिया गया है। भोज के लिए चल रहा इंतजाम रोक दिया गया है और सभी सामग्री को वापस भेजा जा रहा है। इस भोज में सीएम नीतीश कुमार समेत करीब 1 हजार लोगों को आमंत्रित किया गया था। वहीं जेडीयू के संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा के आवास पर आयोजित मकर संक्रान्ति का भोज भी रद्द कर दिया गया है। उपेन्द्र कुशवाहा ने शरद यादव के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि एक समाजवादी युग का अंत हो गया।

वहीं शरद यादव के निधन पर दुख जताते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि शरद यादव जी के असामयिक निधन की ख़बर से बेहद दुखी हूं। कुछ भी कह पाने में मैं अपने आपको समर्थ नहीं मान रहा हूं। इसको लेकर माताजी और भाई शांतनु से वार्ता हुई है। मेरे पास कहने को ज्यादा कुछ शब्द ही नहीं है। उन्होंने कहा कि महान समाजवादी नेता का निधन हमारे लिए बहुत बड़ी क्षति की बात है। तेजस्वी ने कहा कि अब हमें उनके दिखाए रास्ते पर चलने की जरूरत है। शरद यादव का गुरुवार की रात 75 साल की उम्र में निधन हो गया था। उन्होंने दिल्ली के एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस ली। उनकी बेटी सुभाषिनी यादव ने देर रात सोशल मीडिया पर उनके निधन की जानकारी दी। शुभाषिनी ने ट्वीट में लिखा-पापा नहीं रहे। उनकी उम्र 75 साल थी। एमपी के बाबई तहसील के आंखमऊ गांव में शनिवार को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। JDU के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव का पार्थिव शरीर शुक्रवार को अंतिम दर्शन के लिए दिल्ली के छतरपुर में उनके आवास पर रखा गया है।

About Post Author

You may have missed