7 अगस्त से 28 अगस्त के बीच होगी रद्द हुई सिपाही भर्ती परीक्षा, आयोग का नोटिस जारी

पटना। बिहार पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा 7 अगस्त से 28 अगस्त के बीच आयोजित की जाएगी। इस संबंध में आयोग ने सभी जिलाधिकारियों को पत्र भेजा है। सिपाही भर्ती परीक्षा का आयोजन पहले 1 अक्टूबर 2023 को हुआ था, लेकिन पेपर लीक हो जाने के कारण इसे रद्द कर दिया गया था। आयोग द्वारा जारी पत्र के अनुसार, नई परीक्षा 7, 11, 18, 21, 25, और 28 अगस्त को आयोजित की जाएगी। परीक्षा का समय दोपहर 12:00 बजे से 2:00 बजे तक एक पाली में रखा गया है। पेपर लीक मामले की जांच के दौरान आर्थिक अपराध इकाई ने खुलासा किया कि इस कांड का मुख्य सरगना नालंदा के नगरनौसा का संजीव मुखिया उर्फ लूटन है। जांच में पता चला कि परीक्षा के चार दिन पहले ही प्रश्नपत्र लीक हो गया था। प्रश्नपत्र जो मोतिहारी भेजे जाने थे, वे पटना में गाड़ी में लोड होकर छह घंटे तक खड़े रहे। इसी दौरान संजीव मुखिया और उसकी गैंग ने प्रश्नपत्रों की फोटो खींचकर उन्हें सॉल्व किया और अभ्यर्थियों को पैसे लेकर उत्तर-कुंजी उपलब्ध कराई। परीक्षा के दिन प्रश्नपत्र और उत्तर-कुंजी वायरल हो गए थे। इसके अलावा, जब संजीव मुखिया को पता चला कि कोलकाता में सिपाही भर्ती का प्रश्नपत्र छप रहा है, तो वह अपने गिरोह के कुछ शातिर सदस्यों के साथ कोलकाता पहुंच गया। इस पूरी साजिश का पर्दाफाश होने के बाद अब आयोग ने नई तारीखों की घोषणा की है। इस परीक्षा में 21,391 खाली पदों पर योग्य उम्मीदवारों की भर्ती की जाएगी। इसके लिए लगभग 18 लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। परीक्षा के दौरान भीड़-भाड़ की समस्या को दूर रखने के लिए परीक्षा का आयोजन केवल एक पाली में किया जा रहा है। परीक्षा का निष्पक्ष और पारदर्शी आयोजन सुनिश्चित करने के लिए आयोग ने कड़े कदम उठाए हैं। सभी जिलाधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि वे परीक्षा केंद्रों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रखें और किसी भी प्रकार की गड़बड़ी न हो। पिछली बार की घटना से सबक लेते हुए इस बार आयोग ने विशेष सतर्कता बरतने का निर्णय लिया है। आयोग ने सभी उम्मीदवारों से अनुरोध किया है कि वे परीक्षा के दौरान नियमों का पालन करें और किसी भी प्रकार की अनुचित गतिविधियों में शामिल न हों। पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम इस बार परीक्षा को सुचारू रूप से संपन्न कराने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

About Post Author

You may have missed