December 6, 2022

13 सिनेमाघरों में सुरक्षा और दर्शकों की सुविधा जांच को डीएम ने गठित किए इतने ही दल

पटना (आनंद केसरी)। पटना जिला में संचालित/लाइसेंसी सभी सिनेमाघरों में अग्निसुरक्षा के लिए की गयी व्यवस्था के साथ ही विद्युत व्यवस्था, भवन की वर्तमान स्थिति, प्रवेश एवं निकास द्वार, पार्किंग स्थल, शौचालय एवं यूरिनल आदि के जांच को डीएम कुमार रवि ने जांच दल का गठन किया। इसके पूर्व पटना सिटी के कृष्णा टॉकीज में मिली खामियों को दुरुस्त करने को लेकर दीरम यहां शो बंद करा चुके हैं। जिला में 13 सिनेमा हाॅल के लिए 13 जांच दल गठन किया है। दल को निर्देश दिया कि सिनेमा घरों में आने वाले दर्शकों की सुरक्षा एवं वांछित सुविधाओं से संबंधित विभिन्न पहलुओं तथा सिनेमा अनुज्ञप्ति के नवीकरण किये जाने के संबंध में विस्तृत प्रतिवेदन मंतव्य के साथ यथाशीघ्र समर्पित करेंगे। डीएम ने मोना सिनेमा की जांच करने को एसओआर पंकज कुमार, विद्युत निरीक्षक अरविंद कुमार, कार्यपालक अभियंता, पटना भवन प्रमंडल, मदन प्रसाद तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी को सौंपा है। एलीफिन्सटन सिनेमा, गांधी मैदान, पटना का जांच करने की जिम्मेवारी श्री पंकज कुमार, विशिष्ट अनुभाजन पदाधिकारी, पटना, श्री अरविन्द कुमार विद्युत निरीक्षक, पटना, श्री मदन प्रसाद, कार्यपालक अभियंता, पटना भवन प्रमंडल, पटना, श्री विरेन्द्र कुमार तरूण कार्यपालक पदाधिकारी, बांकीपुर अंचल, पटना तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी, पटना को सौपा है।
रिजेन्ट सिनेमा की जांच पटना का जांच डीआरडीए की निदेशक अवधेश राम, विद्युत निरीक्षक, पटना अरविंद कुमार, कार्यपालक अभियंता, पटना भवन प्रमंडल मदन प्रसाद, कार्यपालक पदाधिकारी वीरेंद्र कुमार तरुण बांकीपुर अंचल तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी को सौपा है। सिनेपोलिस सिनेमा, पाटलीपुत्रा की जांच अपर समाहर्ता राजस्व वजैन उद्दीन अंसारी, विद्युत निरीक्षक अरविंद कुमार, पाटलीपुत्रा भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता विनोद कुमार, एनसीसी के ईओ शैलेश कुमार तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी को सौंपा गया है। बाढ़ के सविता चित्रशाला की जांच अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी संजय कुमार, विद्युत निरीक्षक, पवन कुमार, कार्यपालक अभियंता, संरचना प्रमंडल संख्या-01, अरुण कुमार सिंह, बाढ़ नगर परिषद के ईओ तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी को सौंपा है। दानापुर के डायना टाॅकिज की जांच अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, दानापुर, श्रीमती सुरंजिता सिन्हा, विद्युत निरीक्षक अरविंद कुमार, पटना, पाटलिपुत्रा भवन प्रमंडल के एई संजीव कुमार, दानापुर नगर परिषद के ईओ तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी करेंगे। अल्पना सिनेमा, दीघा की जांच डीसीएलआर दानापुर रवि राकेश, विद्युत निरीक्षक अरविंद कुमार, पाटलिपुत्रा, भवन प्रमंडल के एई संजीव कुमार, कार्यपालक पदाधिकारी, दानापुर नगर परिषद तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी को सौंप है। बिहटा के उदय चित्र मंदिर की जांच अपर जिला दंडाधिकारी, आपूर्ति निर्मल कुमार, विद्युत निरीक्षक अरविंद कुमार, पटना पश्चिमी भवन प्रमंडल के ईई राणा विद्याधर, कार्यपालक पदाधिकारी प्रभात रंजन, खगौल नगर परिषद के ईओ प्रभात रंजन तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी करेंगे। पटना को सौपा है। मोकामा के न्यू सिनेमा लक्की हाउस की जांच डीसीएलआर कलीमउद्दीन अहमद, विद्युत निरीक्षक अरविंद कुमार, भवन प्रमंडल, पटना सिटी के कार्यपालक अभियंता संजीत कुमार, मोकामा नगर परिषद के ईओ संजय कुमार तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी करेंगे। मसौढ़ी के संध्या टॉकीज की जांच डीसीएलआर जफर हसन, विद्युत निरीक्षक अरविंद कुमार, कार्यपालक अभियंता, गर्दनीबाग, भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता, अनिल कुमार, कार्यपालक पदाधिकारी, मसौढ़ी नगर परिषद तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी करेंगे। को सौपा है। बाढ़ के नीलम चित्र मंदिर की जांच अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी संजय कुमार, विद्युत निरीक्षक अरविंद कुमार, संरचना प्रमंडल, संख्या-1 के कार्यपालक अभियंता पवन कुमार, बाढ़ नगर परिषद के ईओ अरुण कुमार सिंह तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी करेंगे। पटना को सौपा है। बिक्रम के ममता चित्र मंदिर की की जिम्मेवारी डीसीएलत कृत्यानन्द रंजन, विद्युत निरीक्षक अरविंद कुमार, पटना, भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता राणा विद्याधर, कार्यपालक पदाधिकारी प्रभात रंजन, खगौल नगर परिषद तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी को सौंप गया है।
डीएम ने फुलवारीशरीफ के सुशील प्लाजा की जांच अपर समाहर्ता आपदा, मोईज उद्दीन, विद्युत निरीक्षक, कार्यपालक अभियंता, गर्दनीबाग, भवन प्रमंडल शमनोज कुमार, कार्यपालक पदाधिकारी, फुलवारीशरीफ नगर परिषद तथा जिला अग्निशाम पदाधिकारी को सौपा है। जिलाधिकारी कुमार रवि ने बताया कि सिनेमा हाॅल की अनुज्ञप्ति नवीकरण हेतु भवन निर्माण विभाग, अग्निशाम विभाग, वाणिज्यकर विभाग एवं विद्युत निरीक्षक से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त किया जाना जरूरी है। बिहार अग्निशमन सेवा अधिनियम 2014 के अनुसार अग्नि निवारण एवं अग्नि सुरक्षा उपाय के लिए सभी अग्निशमन संयंत्र अधिष्ठापित एवं कार्यशील होनी चाहिए। साथ ही सिनेमाघर में फायर सेफ्टी के लिए लगे उपकरणों के संचालन के लिए एक निर्धारित एवं प्रशिक्षित कर्मी का होना आवश्यक है, जिससे सिनेमा प्रदर्शन के दौरान अन्य कोई कार्य नहीं लिया जाए। प्रत्येक सिनेमा घर में सिनेमा प्रदर्शन के दौरान तैयार स्थिति में गीला कंबल पर्याप्त मात्रा में, पोर्टेबुल केमिकल फायर स्टींग्यूसर एवं बाल्टी में भरा हुआ सूखा बालू रखा जाना चाहिए। सिनेमा भवन की स्थिति कोड एवं बिल्डिंग बाईलाॅज के अनुसार एवं भूकम्परोधी होना चाहिए। वाहन एवं दर्शक हेतु पहुँच पथ सुगम रहना चाहिए। प्रवेश एवं निकास द्वार तथा सीढ़ियां और गैंगवे फिसलनरहित सुगम एवं उपयुक्त रहना चाहिए। साथ ही पार्किंग की समुचित व्यवस्था रहनी चाहिए।
सिनेमा घरों में नियमानुसार विद्युत संयंत्र अधिष्ठापित एवं कार्यशील होनी चाहिए। रौशनी की व्यवस्था पर्याप्त रहनी चाहिए। प्रवेश एवं निकास तथा आपात संकेत हेतु अलग-अलग प्रकार की रौशनी व्यवस्था रहनी चाहिए। विद्युत उपकरणों के हैंडलिंग के लिए एक जानकार कर्मी रहना चाहिए। आकस्मिक निष्कासन योजना तैयार रहना चाहिए। यह अनुज्ञापन पदाधिकारी द्वारा अनुमोदित होना चाहिए। इसका लघु डाक्यूमेंन्टरी फिल्म दो मिनट का प्रत्येक शो में प्रदर्शित होनी चाहिए। आपदा प्रबंधन अधिनियम के आलोक में भीड़ प्रबंधन एवं निष्कासन हेतु आवश्यक प्रबंध रहना चाहिए तथा प्रत्येक तीन माह पर माॅकड्रील किया जाना चाहिए। सीसीटीवी की व्यवस्था रहनी चाहिए। प्राथमिक उपचार व्यवस्था, अलार्म सिस्टम व्यवस्था भी होना चाहिए।

About Post Author

You may have missed