February 26, 2024

होमगार्ड अभ्यर्थियों ने राजद कार्यालय का किया घेराव, कहा- सरकार को केवल शिक्षक वोट नहीं देते, उनको हमारी चिंता नहीं

पटना। राजधानी पटना में होमगार्ड अभ्यर्थियों ने शुक्रवार को आरजेडी दफ्तर को घेर लिया। पिछले कई वर्षों से नियुक्ति की राह देख रहे अभ्यर्थी तेजस्वी यादव से जवाब मांगने पहुंचे थे लेकिन तेजस्वी बिना उनसे मिले वहां से कन्नी काटकर निकल गए। वैकेंसी के निकले 12 साल बीत गए लेकिन सफल अभ्यर्थियों को अभी तक नियुक्ति पत्र नहीं मिल सका है। नाराज अभ्यर्थियों का कहना था कि जेडीयू और आरजेडी को सिर्फ शिक्षक वोट नहीं देते हैं बल्कि अन्य लोग भी वोट देते हैं लेकिन उन्हें सिर्फ शिक्षकों की नियुक्ति की ही चिंता है। पिछले 12 वर्षों से नियुक्ति की राह देख रहे होमगार्ड अभ्यर्थियों के धैर्य ने आज जवाब दे दिया और सैकड़ों की संख्या में अभ्यर्थी पटना की सड़कों पर उतर गए। बड़ी संख्या में अभ्यर्थी आरजेडी दफ्तर पहुंच गए और तेजस्वी को उनके वादे की याद दिलाई। अभ्यर्थियों का कहना था कि 2011 में वैकेंसी निकाली गई थी। करीब 10 साल बाद 2022 में परीक्षा आयोजित की गई थी। रिजल्ट निकला लेकिन नियुक्ति नहीं हो सकी है। रिजल्ट प्रकाशित होने के दो साल बाद भी नियुक्ति नहीं हो सका। उन्होंने कहा कि बार बार मांग करने के बावजूर सरकार उनकी बातों को नहीं सुन रही है। अपनी गुहार लेकर तेजस्वी यादव से मिलने पहुंचे हैं। वैकेंसी को निकले 12 साल बीत गए लेकिन अभी तक सफल अभ्यर्थियों की बहाली नहीं हो सकी है। सरकार को वोट तो पांच पांच साल पर चाहिए लेकिन नियुक्ति 12 साल पर भी नहीं हो सका है। नियुक्ति नहीं मिला तो वोट नहीं देंगे। सरकार अगर सोंच रही है कि उसे वोट देने वाले सिर्फ शिक्षक ही हैं तो यह उसकी गलत सोंच है। बड़ी संख्या में अभ्यर्थी आरजेडी दफ्तर के बाहर तेजस्वी से मिलने के लिए खड़े रहे लेकिन तेजस्वी ने मिलना तो दूर उनसे बात तक नहीं किया और कन्नी काट कर वहां से निकल गए। इससे पहले मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि इंडी गठबंधन में सीट बंटवारे को लेकर कोई विवाद नहीं है और सब ठीक है। कही से कोई दिक्कत नही होने वाली है। सीट बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही है। वहीं फुलवारी शरीफ रेप कांड पर तेजस्वी ने कहा कि दोषियों को कड़ी सजा मिलेगी। सरकार मामले की गंभीरता से जांच करवा रही है।

About Post Author

You may have missed