November 26, 2022

मंजू वर्मा के पति को पकड़ने के लिए कई जगहों पर छापेमारी, निकला है गिरफ्तारी वारंट

बेगूसराय। पूर्व सामाजिक कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा को अवैध तरीके से कारतूस रखने के मामले में गिरफ्तार करने के लिए बिहार पुलिस द्वारा शुक्रवार को सूबे के कई हिस्सों में छापेमारी किए जाने की खबर है। पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार ने बताया कि चंद्रशेखर वर्मा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट अदालत से मिलने के बाद पूरे प्रदेश में छापेमारी के लिए पुलिस उपाधीक्षक सूर्यदेव कुमार की अध्यक्षता में चार सदस्यीय दल का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि टीम आरोपी के सभी संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। अधिकारी ने बताया, उनके कुछ दूर के रिश्तेदार वर्तमान में वर्मा के बेगूसराय निवास में रह रहे हैं। उनका पूरा परिवार फरार है। उन्होंने कहा कि बेगूसराय, खगड़िया और आसपास के अन्य जिलों में उनके संभावित ठिकानों पर पहले ही छापेमारी की जा चुकी है। सूत्रों ने कहा कि पुलिस अधीक्षक ने मामले में पूर्व मंत्री को पकड़ने के आदेश जारी नहीं किये हैं क्योंकि अदालत ने उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी नहीं किया है। अगस्त में मंजू वर्मा ने सामाजिक कल्याण मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। बता दें मुजफ्फरपुर आश्रय गृह कांड में नाम आने के बाद केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो की छापेमारी के दौरान बेगूसराय जिले में स्थित मंजू वर्मा के ससुराल से 50 कारतूस बरामद हुए थे। इसके बाद शस्त्र अधिनियम, 1959 के तहत पूर्व मंत्री और उनके पति के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी थी।

About Post Author

You may have missed