November 26, 2022

राजद-कांग्रेस के शासन काल में हुई एक दर्जन सामूहिक नरसंहार, और भी बहुत कुछ बोलें

पटना। विद्यापति भवन में आयोजित पूर्व मुख्यमंत्री स्व. भोला पासवान शास्त्री के जयंती पर कबीर के लोगों द्वारा भजनांजलि कार्यक्रम के अवसर पर उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि एससी और एसटी का संसद और विधानमंडल में आरक्षण महात्मा गांधी, पंडित मदन मोहन मालवीय, डॉ राजेंद्र प्रसाद और राजा जी जैसे लोगों की देन है। अंग्रेजों ने तो दलितों को प्रथम निर्वाचन का अधिकार देकर दलित समाज को हिंदू से अलग करने का षड्यंत्र किया था। लेकिन, गांधी और अंबेदकर ने अंग्रेजों के षड्यंत्र को विफल कर दिया था। श्री मोदी ने कहा कि राजद और कांग्रेस के 15 वर्षों के शासन काल में बथानी टोला (21), लक्ष्मणपुर बाथे (58), मियांपुर (32), हैवसपुर (10), शंकर बीघा (23), नारायणपुर (11) जैसे एक दर्जन सामूहिक नरसंहार हुए थे। मगर, पिछले 12 वर्षों में एनडीए के शासन में बिहार में एक भी दलित नरसंहार नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि जब प्रोन्नति में आरक्षण को सर्वोच्च न्यायालय ने खारिज किया, उस समय अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने संविधान में चार संशोधन कर उसको बहाल करने का काम किया। मोदी ने कहा कि बिहार में भाजपा और जदयू की सरकार जहां बीपीएससी और यूपीएससी की प्रारम्भिक परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले एससी और एसटी के छात्रों को 50 हजार एवं एक लाख अनुदान दे रही है। वहीं, कल्याण छात्रावास में रहने वाले छात्रों को 15 किलो अनाज प्रति माह मुफ्त और 12 हजार आवासन भत्ता दे रही है। ग्राम परिवहन सेवा के लिए अधिकतम एक लाख अनुदान और उद्योग लगाने के लिए पांच लाख अनुदान और पांच लाख ब्याज मुक्त ऋण एससी और एसटी युवकों को दे रही है।

About Post Author

You may have missed