December 6, 2022

पटना में लगेगी भामाशाह की प्रतिमा: नंदकिशोर

पटना सिटी (आनंद केसरी)। बिहार प्रदेश वैश्य महासभा, पटना महानगर द्वारा मंगल तालाब स्थित घसीटा राम एसी ऑडिटोरियम में आयोजित वैश्य अधिकार महासम्मेलन किया गया। इसे सम्बोधित करते पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा कि मोदी सरकार जनता की सरकार है। इसलिए उनको हर सबका ख्‍याल है। मोदी जी ने जनहित के अनेक काम किए हैं, जिससे आज देश की सूरत बदली है। आखिर पहले ऐसा क्‍यों नहीं हुआ? इसलिए नहीं हुआ कि पहले के प्रधानमंत्री को लोगों से दिलचस्‍पी नहीं थी। उन्‍होंने कहा कि पटना में भामा शाह की मूर्ति लगेगी, यह एनडीए ने तय कर लिया है। महासभा के अध्‍यक्ष डॉ आनंद कुमार ने कहा कि वैश्‍य समाज की आबादी 22 फीसदी है। इसलिए हमें राजनीति में भागीदारी हमारी संख्‍या बल के आधार पर मिलनी चाहिए। हमें कम से कम 8 सीट एनडीए गठबंधन को आबादी के अनुसार वैश्‍य समाज को देना चाहिए। महासम्‍मेलन के मुख्‍य अतिथि पाटलिपुत्र विवि के कुलपति प्रो. डॉ गुलाब चंद राम जायसवाल ने वैश्‍य समाज के लोगों को शिक्षित, संगठित और अधिकार के लिए संघर्ष करने की अपील की।
अध्‍यक्षता करते हुए पूर्व डीजीपी अशोक कुमार गुप्‍ता ने कहा कि‍ एक साजिश के तहत वैश्‍य समाज को 56 उपजातियों में बांटा गया है। राजनीति में अब वैश्‍य समाज की उपेक्षा बर्दाश्‍त नहीं की जाएगी। पटना साहिब सीट वैश्‍य बहुल है, इसलिए वैश्‍यों को इस पर टिकट मिलना चाहिए। महासभा के उपाध्‍यक्ष डॉ संजय कुमार ने कहा कि दिसंबर में वैश्‍य समाज गांधी मैदान में विशाल रैली करेगी। समारोह में मेयर सीता साहू, पूर्व पार्षद प्रमोद गुप्ता, दिलीप गुप्ता, कांति केसरी, विनय केसरी, सुनीता गुप्ता, संजय गुप्ता आदि मौजूद हो अपनी बात रखी।

इस महा सम्‍मेलन में महासभा के प्रधान महासचिव दिलीप कुमार गुप्‍ता, युवा अध्‍यक्ष नितिन अभिषेक, महिला सभा की अध्‍यक्ष वीणा मानवी और कांति केसरी, कमल नोपानी, शिव कुमार, विपुल कुमार गांधी, आशा गुप्‍ता, रणजीत राणा, आदि ने संबोधित किया।

About Post Author

You may have missed