December 10, 2022

प्रदेश में पछुआ हवा के प्रभाव से बदला मौसम, छठ घाटों पर तापमान गिरने से होगा ठंड का एहसास

पटना। छठ महापर्व से पहले बिहार के मौसम में बड़ा बदलाव हुआ है। बारिश की गतिविधियों पर लगभग विराम लग गया है। 30 सितंबर को मॉनसून की विदाई के बाद भी पोस्ट मॉनसून बारिश अक्टूबर महीन में होती रही। दुर्गा पूजा में भी बारिश हुई जिससे मेले में रंग भंग हो गया। दिवाली के दौरान मौसम विभाग ने हल्की बारिश की संभावना जताई थी। लेकिन, दिवाली में बारिश नहीं हुई। कल शुक्रवार से छठ महापर्व शुरू हो रहा है। इस मौके पर मौसम को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं। मौसम विभाग के ताजा रिपोर्ट के अनुसार राजधानी समेत पूरे प्रदेश में पछुआ व उत्तर पछुआ हवा का प्रवाह बना हुआ है। इससे सिहरन बढ़ रही है। उत्तरी पछुआ हवाओं के प्रभाव से प्रदेश का मौसम अगले पांच दिनों तक शुष्क बना रहेगा।

वही सुबह और शाम के तापमान में एक से दो डिग्री गिरावट के आसार हैं। मौसम के बदलते तेवर से यह अनुमान किया जा रहा है कि छठ के मौके पर लोगों को सुबह और शाम गुलाबी ठंड का एहसास होगा। वहीं ग्रामीण इलाकों में सुबह के समय हल्की धुंध बने रहने के आसार हैं। मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार पूरे प्रदेश में पछुआ के प्रवाह के कारण आमतौर पर मौसम शुष्क बना रहेगा। वहीं 30 अक्टूबर के बाद रात के तापमान में तीन से चार डिग्री गिरावट के आसार हैं। बुधवार को राजधानी के अधिकतम तापमान में 0.3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट के साथ 31.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं न्यूनतम तापमान में एक डिग्री की गिरावट के साथ 18.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं 35.0 डिग्री सेल्सियस के साथ नवादा प्रदेश का गर्म शहर रहा। गुरुवार को राजधानी समेत प्रदेश के अन्य हिस्सों में आसमान साफ रहेगा।

About Post Author

You may have missed