February 26, 2024

नालंदा में विजय चौधरी ने सर गणेश दत्त सिंह की प्रतिमा का किया अनावरण, कहा- शिक्षा के विकास के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर किया

पटना। बिहार सरकार के वित्त, वाणिज्य-कर एवं संसदीय कार्य विभाग के मंत्री विजय कुमार चौधरी ने नालंदा के हरनौत के (+2)उच्च विद्यालय, गोनावां-पोआरी के प्रांगण में स्थित सर गणेश दत्त सिंह की प्रतिमा का अनावरण किया एवं श्रद्धा सुमन अर्पित किए। वही आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सर गणेश दत्त सिंह कर्ममार्गी व्यक्तित्व के धनी थे। वे आजीवन समाज के शैक्षणिक उत्थान के लिए समर्पित रहे। उन्होंने कई शैक्षणिक संस्थाओं, संगठन, लाइब्रेरी की स्थापना की। शिक्षा के विकास के लिए सार्वजनिक सहयोग के साथ-साथ व्यक्तिगत धन से भी दर्जनों शैक्षणिक संस्थाओं की स्थापना की। विजय चौधरी ने कहा कि वर्तमान समय में लोग शिक्षा का महत्व बखूबी समझ रहे हैं, परंतु आज से सवा सौ साल-डेढ़ सौ साल पहले शिक्षा के महत्व को समझ कर उसके विकास व उत्थान के लिए काम करना साधारण बात नहीं थी। आज सर गणेश दत्त जी के उस दूरगामी सोच व समर्पण का लाभ समाज को मिल रहा है। वित्त मंत्री ने आगे कहा कि जिस प्रकार से करीब 150 साल पहले इस धरती के लाल ने शिक्षा के विकास के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर किया, उसी प्रकार वर्तमान समय में इसी धरती के लाल सीएम नीतीश ने बिहार में शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व कार्य किये हैं, जिसका परिणाम हम सभी को दिख रहा है। पंचायत से लेकर राज्य स्तर तक शैक्षणिक उत्थान के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कुशल निर्देशन में आधारभूत संरचनाओं के निर्माण के साथ-साथ बेहतर शैक्षणिक प्रबंधन किए गए हैं। BPSC के माध्यम से शिक्षकों की नियुक्ति की जा रही है और नियुक्ति-पत्र का वितरण हो रहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा है कि उन्होंने मुझे नालंदा का प्रभारी मंत्री का दायित्व दिया है और आज के कार्यक्रम में सीएम नीतीश जी को आना था लेकिन राजनीतिक व्यस्तताओं के कारण उन्होंने अपने प्रतिनिधि अथवा सहयोगी के रूप में मुझे भेजा है। जिला का प्रभारी मंत्री होने के नाते मुझे यहां के स्थानीय लोगों का स्नेह हमेशा मिलता रहता है। उन्होंने सर गणेश दत्त जयंती समारोह आयोजन समिति के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि इस क्षेत्र के कार्य में मेरे सहयोग की जब भी आवश्यकता हो, आप निश्चित रूप से मुझे बताएं। उन्होंने स्थानीय लोगों से अपील करते हुए कहा कि सर गणेश दत्त सिंह जी का जीवन अनुकरणीय है। आज उनकी जयंती के पुनीत अवसर पर हमें संकल्प लेना चाहिए कि शिक्षा के लिए हर व्यक्ति अपना योगदान दें, अपनी भूमिका अदा करेंगे। शिक्षा ही वास्तविक विकास का आधार है। वही इस अवसर पर सर गणेश दत्त सिंह के व्यक्तित्व और कृतित्व पर आधारित स्मारिका का विमोचन किया गया। वही इस कार्यक्रम का संचालन कवि जी ने किया। इस दौरान नालंदा के सांसद कौशलेन्द्र कुमार, हरनौत के विधायक हरि नारायण सिंह, विधान पार्षद् सच्चिदानंद राय ने भी अपने विचार व्यक्त किए। वही इस मौके पर नालंदा के जिला पदाधिकारी शशांक शुभंकर, अनुमंडल पदाधिकारी अभिषेक, रवि, पूर्व विधायक ई. सुनील कुमार सहित प्लस टू उच्च विद्यालय, गोनावां के प्राचार्य, शिक्षकगण, छात्र-छात्राएं तथा काफी संख्या में स्थानीय नागरिकरण उपस्थित थे।

About Post Author

You may have missed