December 5, 2022

वेतन के लिए एसजीजीएसकर्मियों ने किया प्रदर्शन, भूख हड़ताल करने के साथ स्थाई डीडीओ के पदस्थापना की मांग

पटना सिटी (आनंद केसरी)। गुरु गोविंद सिंह अस्पताल को सदर का दर्जा तो मिल गया, मगर वित्तीय अधिकार अधीक्षक के नहीं रहने के कारण सिविल सर्जन के पास है। इस कारण से अस्पताल के डॉक्टर, कर्मियों और नर्सों को वेतन नहीं मिल पा रहा है। यहा उपाधीक्षक के प्रभार में वरीय चिकित्सक डॉ दीप मजुमदार को प्रभारी बनाया गया है। पर्व को ध्यान में रख लोगों को वेतन नहीं मिलने से गुस्सा है। गुरुवार को जब हेड क्लर्क सिविल सर्जन के वेतन कागजात पर साइन नहीं होने पर लौट कर शाम में आए तो कर्मी आक्रोशित हो गए। सबों ने अस्पताल गेट पर नाराबाजी किया। कर्मी दीपक कुमार, अनिल प्रसाद सिंह और नर्स श्यामली ने बताया कि वेतन का कागजात बना सिविल सर्जन के पास 14 दिन पूर्व भेजा गया, मगर अबतक उनकी व्यस्तता के कारण साइन नहीं होने से उन सबों को पर्व पर भी वेतन नहीं मिल सकेगा। इधर 3 दिन ऑफिस बंद है। कर्मियों ने अस्पताल में स्थाई डीडीओ बहाल कर तत्काल वेतन भुगतान की मांग की है। प्रभारी उपाधीक्षक का कहना है कि वेतन बना कर भव गया है। उस पर सिविल सर्जन का साइन होने के बाद भुगतान होगा।

About Post Author

You may have missed