December 10, 2022

अतिक्रमण हटाओ अभियान में पदाधिकारी के मनमानी पर एसडीओ से मिल जताया रोष

पटना सिटी (आनंद केसरी)। जिला पुलिस प्रशासन के सहयोग से नगर निगम के स्वर अवैध अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाया गया। मगर इसमें कोई पैमाना नहीं रख गया। किसी दुकान-प्रतिष्ठान का अपना बोर्ड लगा है, तो मनमाना जुमार्ना, किसी का चबूतरा या छज्जा है तो उस पर भी वही हाल। इससे जनता के बीच असमंजस और भ्रम की स्थिति बनी रही। उस पर निगम के अधिकारी-पदाधिकारी के द्वारा मनमाने ढंग से जुर्माना वसूली में अव्वल आने की भी होड़ रहने से लोग परेशान रहे। इन्हीं मुद्दों को लेकर वर्तमान और पूर्व पार्षदों की टीम एसडीओ राजेश रौशन सर मिल ज्ञापन सौंपा और वस्तुस्थिति को रखा। शिष्टमंडल में शामिल पार्षद शोभा देवी, पूर्व पार्षद बलराम चौधरी, धर्मेन्द्र कुमार मुन्ना, राजद नेता मो. जावेद, रजनीश राय, मदनलाल आर्य सुर देवरत्न प्रसाद ने कहा कि निगम लोगों को मार्क कर समय-सीमा निश्चित कर दें, लोग खुद तोड़ लेंगे। सिटी पुराना शहर है और उसी अनुसार पुराना कलाकारी के तोड़फोड़ होने से शहर देखने में अजीब सा लग रहा है। हम सभी अतिक्रमण हटाने के कोर्ट के आदेश का सम्मान करते कभी विरोध नहीं किया। मगर जनता को भी कितना तोड़ना है और दुकान-प्रतिष्ठान पर बोर्ड लगाने का क्या नियम है, पब्लिक को बताया जाना चाहिए। एसडीओ राजेश रौशन ने भी इस बात पर सहमति जताते हुए मामले को डीएम और नगर आयुक्त के पास भेजने की बात कही।

About Post Author

You may have missed