December 10, 2022

महराजगंज, गुलजारबाग और जल्ला मंडी गुरुवार को बंद, जानिए क्यों…

पटना सिटी (आनंद केसरी)। मेयर सीता साहू के निजी आवास पर गोलीबारी करने और उन्हें और उनके बेटे शिशिर कुमार को गाली देने के अलावा अपराध नियंत्रण को ले गुरुवार को महराजगंज, जल्ला और गुलजारबाग मंडी बंद रहेगी। यह जानकारी महराजगंज खाद्यान्न व्यवसायी संघ के अध्यक्ष जितेंद्र गुप्ता ने दी।
3 संघ की मीटिंग में फैसला: दरअसल आलमगंज थाना क्षेत्र के बड़ी पटनदेवी रोड में मेयर सीता साहू का निजी आवास है। एनएच 30 पर एक मिल मालिक दिव्यम सुंदरम का अतिक्रमण में दीवार को तोड़ते हुए जुर्माना किया गया था। उसी से आक्रोशित मेयर के घर के बाहर गाली दिया जाने लगा। जब आसपास के लोगों ने खदेड़ा तो फायरिंग करते भागा। इस मामले में दर्ज एफआईआर में नामजद को पुलिस पकड़ नहीं पाई और कोर्ट से जमानत देने को पूरा मौका दिया। दो नामजद जमानत ले चुके। इस घटना से गुस्साए व्यवसायियों ने बुधवार को मीटिंग जितेंद्र गुप्ता की अध्यक्षता में की। इसमें जल्ला व्यवसायी संघ के अध्यक्ष अर्जुन प्रसाद, गुलजारबाग लघु समिति के अध्यक्ष अवधेश प्रसाद, संजय कश्यप, संजय गुप्ता आदि ने भाग लिया। गिरती विधि-व्यवस्था, अपराध नियंत्रण, सतत गश्ती, मेयर के घर गोलीबारी करने वाले नामजद को गिरफ्तार नहीं कर उसे जमानत लेने का पूरा मौका दिए जाने का आरोप लगाया गया। कल गुरुवार को शेरशाह रोड के गुलजारबाग, महराजगंज और जल्ला रोड की थोक और खुदरा दुकान बंद रख कारोबारियों द्वारा विरोध दर्ज कराया जाएगा।

अतिक्रमण, होर्डिंग-बैनर हटाने में निगम का सिटी अंचल अबतक वसूला 16.61 लाख जुर्माना

पटना सिटी। नगर निगम सिटी अंचल ने बुधवार को अशोक राजपथ के बीएनआर कालेज मोड़ से गायघाट तक अभियान चलाया। इस दौरान बतौर जुर्माना 57 हजार और 16 अगस्त से अबतक चले अभियान में कुल 16 लाख 61 हजार 600 रुपया बतौर जुर्माना वसूला किया है। इस अभियान में बुधवार को 2 जेसीवी, 2 हाइवा, 4 ट्रैक्टर, 2 टाटा सुपर और 2 गैस कटर मशीन को लगाया गया है।
विरोध के बीच हटाया गया: त्रिपोलिया मोड़ से अशोक राजपथ के दोनों ओर नाला पर बने चबूतरा को तोड़ा गया, तो नाला पर लगे लोहे के ग्रील को जब्त किया गया। खुद ईओ सुशील कुमार मिश्रा अभियान का नेतृत्व करते दिखे। दल प्रभारी मनोज कुमार सिंह, रितेश रंजन आदि शामिल थे। लोगों के दुकान का छज्जा नाला तक निकला होने और दुकान का बोर्ड भी रहने पर उसे जब्त कर जुर्माना किया जा रहा है। लोग खुद खोलने लगते या उलझते तो बोर्ड को तोड़ दिया जा रहा है। इस कारण से दुकानदारों में खास आक्रोश पनप रहा है। आज भी अवैध चबूतरा और निर्माण को तोड़ होर्डिंग-बैनर को जब्त किया गया। बतौर मजिस्ट्रेट मनोरमा कुमारी, अयोध्या कुमार, रीता कुमारी और संतोष कु मंडल थे। लोगों के द्वारा विरोध जताया जाता है, मगर काम रुक नहीं रहा है। अतिक्रमण हटाने के दौरान लोगों का चबूतरा या आगे के अतिक्रमण का हिस्सा टूटने का विरोध नहीं है। मगर दुकान के ऊपर निकले छज्जा और लगे बोर्ड को तोड़ने और जुर्माना का विरोध किया जा रहा है।

About Post Author

You may have missed