पटना में शर्मनाक घटना: मोबाइल चोरी के आरोप में नाबालिग को पेड़ से बांध चीनी-पानी डाल चींटियों से कटवाया

फुलवारी शरीफ। ईसापुर में मोबाइल चोरी के आरोप में लोगों ने एक दस साल के नाबालिग चोर को निर्वस्त्र करके पेड़ से बांधकर पिटाई की और उसके शरीर पर चीनी का घोल डालकर चिंटियों कटवाया। लोग नाबालिग की मंदद के वजाए मोबाइल में फोटो लेने और तालियां बजा मजा लेने में लगे रहे। काफी देर बाद सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने उसे लोगों के चंगुल से छुड़ाया और थाने लायी। इंस्पेक्टर कैसर आलम का कहना है कि जिसकी पिटाई की बात सामने आई है वह मो नियाज उर्फ टुन्ना का बेटा कल्लू उर्फ अमन है। नाबालिग कल्लू बड़ा ही शातिर चोर और स्मैकियर भी है। कल्लू के शरिर पर चोट के निशान नजर नही आ रहा है। हल्का फुल्का लोगों ने पिटाई किया होगा। कल्लू पहले भी चोरी के मामले में जेल जा चुका है। कल्लू ने बताया की वह मोबाइल चोरी करके अपने गैंग के सद्दाम उर्फ कऊआ को दे दिया। फिलहाल कऊआ अभी जेल में है। इससे पहले कई लोगो के घरों में चोरी करने का अपराध स्वीकार किया है। कल्लू अभी हाल ही में बाल सुधार गृह से छूटकर आया है। चोर की पिटाई मामले पुलिस ने नूर और उसके भाई को हिरासत में लिया है। किसी को कानून अपने हाथ मे लेने की छूट नही दी जाएगी। ईसापुर के लोगों ने बताया कि अधपा मुहल्ले में मो. निजाम और उसके बेटे नूर सहित परिवार के लोगों ने निम्बू के पेड़ में बांध कर नाबालिग चोर कल्लू उम्र करीब दस साल को पिटाई की। इस पिटाई में अधपा मुहल्ले के बढ़ी संख्या में लोगों ने ही अपना हाथ साफ करने से नहीं चूके। इतने से भी मन नही भरा तो बेरहम लोगों ने नाबालिग चोर कल्लू के शरीर पर चीनी का शरबत डाल कर उसपर चीटियाँ छोड़ दी। चीनी के रस से भरी घोल को लेकर चींटियां नाबालिग के शरीर को काट काट खाती रही और कल्लू असहनीय दर्द से कराहता तड़पता रहा लेकिन उसकी मंदद करने कोई हाथ आगे नही बढ़ा। वह मारे दर्द के रोते चिल्लाते बार बार बोलता रहा कि अब वह कभी चोरी नही करेगा लेकिन किसी को भी उसपर दया नही आई। इस दौरान न तो कोई उसे बचाने की हिम्मत जुटा सका और न ही किसी ने पुलिस को खबर किया। जब पुलिस को खबर मिली तो उसे भीड़ से बचाया और थाना लायी।

About Post Author