December 10, 2022

देर शाम मारूफगंज बड़ी देवी जी का पट खुला, श्री बड़ी पटनदेवी और शीतला माता मंदिर में दर्शन को लग रही लंबी लाइन

पटना सिटी (आनंद केसरी)। नवरात्र के छठे दिन भी भगवती मंदिरों से लेकर पूजा स्थल और घर तक मे श्री दुर्गा सप्तसती की श्लोक गूंज रहे हैं। वहीं शांति पीठ स्थल पर भक्तों की भीड़ भगवती पूजा और दर्शन को उमड़ रहा है। सबसे अधिक भीड़ श्री बड़ी पटनदेवी मंदिर में उमड़ रहा है। यहां के महंत विजय शंकर गिरी ने बताया कि यहां काले कसौटी के पत्थर की भगवती महाकाली, महालक्ष्मी और महासरस्वती विराजित हैं, जो प्राकट्य हैं। सुबह में पूजा, भोग और आरती के बाद भगवती का पट भक्तों के दर्शन-पूजन के लिए खोल दिया जाता है। यहां भक्तों का अनवरत पूजा करने का सिलसिला जारी है। श्री छोटी पटनदेवी में बजी आश्चर्य अभिषेक अनंत द्विवेदी की देखरेख में पूजा-आरती चल रहा है। अगमकुआं स्थित श्री शीतला माता मंदिर, बिस्कोमान कालोनी स्थित प्यारे लाल बाग के बुढ़िया माई मंदिर, शेरशाह पथ स्थित पीताम्बरा माता मंदिर, खाजेकलां के पानीटंकी स्थित प्राचीन काली मंदिर, दीरापर की काली माता मंदिर में पूजा को भक्त आते जा रहे हैं। यहां नवरात्र के पांचवीं पूजा से मां काली के चरण का दर्शन होता है।
खुला भगवती दुर्गा पट
सिटी में श्री बड़ी देवी जी मारूफगंज और महराजगंज को बड़ी और छोटी बहन की मान्यता मिली है। मारूफगंज में बंगला पद्धति से पूजा होती है। यहां पूजा समिति के अध्यक्ष अनिल कुमार, उपाध्यक्ष संत कुमार गोलवारा, प्रधान सचिव भगवान दास यादव, सचिव सोनी यादव, कोषाध्यक्ष प्रेम चंद जायसवाल हैं। पूजा प्रबंधक अंजन सह ने बताया कि सोमवार को छठी पूजा और शाम में आमंत्रण अधिवास हुआ। भगवती दुर्गा का पट रात में खुल जाएगा। मीडिया का काम देख रहे लल्लू शर्मा ने बताया कि मंगलवार को अपराह्न में दरिद्रनारायण भोजन कराया जाएगा वैसे सभी पूजा स्थलों पर कल भगवती दुर्गा देवी की प्रतिमाओं का मंत्रों से प्राण-प्रतिष्ठा कर भक्तों के दर्शन के लिए खोल दिया जाएगा।

About Post Author

You may have missed